1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

चीन के खिलाफ गुस्सा फूटा

दक्षिण चीन सागर में चीन के तेल खनन से वियतनाम में गुस्सा फूटा. हजारों लोगों की भीड़ ने एक दर्जन से ज्यादा फैक्ट्रियों को आग के हवाले कर दिया. बीजिंग ने वियतनाम को सख्त चेतावनी दी.

दक्षिण वियतनाम में हजारों लोगों की भीड़ औद्योगिक परिसर में घुसी और कई फैक्ट्रियों में आग लगा दी. आगजनी बिन्ह डोंग और डोंग नायी प्रांतों में की गई. प्रदर्शनकारियों ने कुछ ताइवानी और दक्षिण कोरियाई कंपनियों की फैक्ट्रियों को गलती से चाइनीज कंपनियां समझा और आग लगा दी. दक्षिण चीन सागर में चीन के तेल खनन के विरोध में हुए प्रदर्शनों के बाद ये घटनाएं हुईं.

वियतनाम के अधिकारियों के मुताबिक कई फैक्ट्रियों में तोड़ फोड़ भी की गई है. चीनी कंपनियों में भी लूट पाट और आगजनी हुई है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. बिन्ह डोंग के पुलिस अधिकारी ले शुआन ट्राउंग के मुताबिक, "लूट पाट, चोरी और फैक्ट्रियों में आग लगाने वाले 500 लोगों को रंगे हाथ हिरासत में लिया गया है."

वामपंथी देश वियतनाम में प्रशासन आम तौर पर प्रदर्शनों पर कड़ा नियंत्रण रखता है, लेकिन दक्षिण चीन सागर में बीजिंग के विवादित तेल खनन के बाद हनोई प्रशासन ने हाल ही में चीन के खिलाफ बड़ी रैलियां करने की इजाजत दे दी.

चीन विरोधी प्रदर्शन के बाद मंगलवार को दस हजार से ज्यादा लोग औद्योगिक परिसरों में घुसे. वियतनाम की सरकारी न्यूज बेवसाइट वीएन एक्सप्रेस के मुताबिक भीड़ ने सुरक्षाकर्मियों पर हमला किया और लूट पाट शुरू कर दी. इसके बाद एक एक कर 15 फैक्ट्रियों में आग लगा दी गई. उत्पात के दौरान कई लोगों के हाथ में वियतनाम के झंडे थे.

वियतनाम की अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से निर्यात पर आधारित है. सैमसंग, नाइकी और एडिडास जैसी कई बड़ी कंपनियां वहीं अपना सामान बनाती हैं. हिंसा और आगजनी के बाद जापान, ताइवान और दक्षिण कोरिया की कई कंपनियों ने वियतनाम में अपना कामकाज अस्थायी रूप से रोक दिया है. ताइवान की फुटवियर कंपनी युए युएन के जेरी शम के मुताबिक, "वियतनाम में बहुत ज्यादा तनाव होने के कारण हमने अपने कर्मचारियों को एक दिन की छुट्टी देने का फैसला किया है."

ताइवान के विदेश मंत्री डेविड लिन मानते हैं कि इस हिंसा से कारोबारी हित प्रभावित होंगे, "हम वियतनाम के लोगों से अपील करते हैं कि ये सब बंद करें और किसी भी हिंसक व अतार्किक कार्रवाई में हिस्सा न लें. इससे ताइवान के लोगों की निवेश की इच्छा पर असर पड़ेगा."

बढ़ते क्षेत्रीय हंगामे के बीच वियतनाम सरकार ने औद्योगिक परिसरों में दंगा निरोधी पुलिस तैनात कर दी है. अधिकारियों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि किसी भी तरह का उत्पात करने वाले को कड़ी सजा दी जाएगी.

दक्षिण चीन सागर को लेकर चीन का कई देशों से विवाद चल रहा है. कुछ ही दिन पहले दक्षिण चीन सागर में तेल खनन के दौरान चीन और वियतनाम के जहाजों की टक्कर हो गई. टक्कर के बाद चीन ने वियतनामी जहाज पर तेज पानी की बौछार की. वियतनाम से इसे बीजिंग की आक्रामक हरकत करार दिया. चीन के रुख से फिलीपींस भी नाराज है. फिलीपींस ने चीन को चेतावनी दी है कि वो दक्षिण चीन सागर के पास हवाई पट्टी बनाने का काम फौरन बंद करे. वियतनाम के लोग अपनी सरकार पर भी चीन के खिलाफ कड़े कदम उठाने का दबाव बना रहे हैं. वहीं चीन के विदेश मंत्रालय ने वियतनाम से कहा है कि वह दंगाइयों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे.

ओएसजे/एमजे (एएफपी, रॉयटर्स, डीपीए)