1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

NRS-Import

चीन का चॉकलेट से याराना नहीं

चॉकलेट के शौकीन कहां नहीं होते, लेकिन हर मामले में आगे बढ़ रहे चीन को चॉकलेट से ज्यादा प्यार नहीं. कई यूरोपीय देशों के नागरिक हर साल औसत 10 किलो से ज्यादा चॉकलेट खा जाते हैं, पर चीन में औसत सिर्फ 100 ग्राम है. क्यों?

मार्केट रिसर्च कंपनी यूरोमॉनिटर की रिपोर्ट के अनुसार औसतन एक चीनी साल भर में सिर्फ 100 ग्राम चॉकलेट खाता है. पड़ोसी मुल्क जापान में उससे 11 गुना ज्यादा और अमेरिका में 44 गुना ज्यादा चॉकलेट खाई जाती है. जर्मनी तो इस मामले में बहुत आगे है. वे चीनी लोगों से 82 गुना ज्यादा चॉकलेट के शौकीन हैं. आंकड़ों के मुताबिक सबसे ज्यादा चॉकलेट स्विट्जरलैंड के लोग खाते हैं.

कॉफी से लेकर हॉलीवुड फिल्में हों या तकनीक से जुड़ा कोई नया उपकरण, उन्हें खरीदने में चीनी ग्राहक आगे बढ़ रहे हैं. चीनी खुदरा बाजार में पिछले पांच साल में 17 फीसदी की सालाना बढ़ोतरी हो रही है. उम्मीद की जा रही है कि अगले एक दशक में चीन में ऐशो आराम से जुड़ी चीजों की बिक्री 20 फीसदी बढ़ेगी. चॉकलेट फॉर्ट्यून्स के लेखक एलन लिखते हैं, "उम्मीद है कि चीन में दिल, दिमाग और जेब के बीच की कशमकश आने वाले समय में कम होगी."

स्विट्जरलैंड की चॉकलेट कंपनी बैरी कैलेबॉ के प्रवक्ता रफाएल वरमूथ ने कहा कि चीन में कॉफी पीने का चलन भी बढ़ा है. इसमें चीनी दुकानों का बहुत बड़ा योगदान है. उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले साल तक चीन दुनिया में कॉफी शॉप स्टारबक्स का दूसरा सबसे बड़ा बाजार होगा.

उपहार के रास्ते

चॉकलेट बनाने वाली कई कंपनियां चीन में अपनी चाहत के रास्ते बनाने के लिए वहां के लोगों में एक दूसरे को उपहार देने के चलन की तरफ भी गौर कर रही हैं ताकि ग्राहकों का ध्यान अपनी तरफ खींच सकें. उनका मकसद है चॉकलेट को अंतरराष्ट्रीय स्वाद वाले बढ़िया उपहार के रूप में लोगों के सामने लाना.

बेल्जियम की महंगी चॉकलेट कंपनी गोडिवा ने चीनी लोगों की मानसिकता समझते हुए विशेष छुट्टियों और उपहारों के लिए चॉकलेट पैकेट तैयार किए हैं. कंपनी के क्षेत्रीय एमडी जॉन होल्मबेर्ग ने बताया, "चीन के लोगों में त्योहारों या छुट्टियों के समय एक दूसरे को उपहार देने का बहुत चलन है. हमें इन मौकों के लिए चॉकलेट के पैकेट तैयार करके बहुत फायदा हुआ है."

चीनी कैलेंडर के अनुसार नया साल 10 फरवरी को बड़े जोर शोर से मनाया जाता है. गोडिवा का 18 पीस का चॉकलेट का डिब्बा लोगों को इस मौके के लिए काफी पसंद आ रहा है. इसी तरह वाइन और डार्क चॉकलेट को साथ मिलाकर बनाए गए उपहार के डिब्बे भी खूब बिक रहे हैं.

चॉकलेट प्रदर्शनियां

चीन में चॉकलेट के उपभोग को चीन में बढ़ावा देने के लिए कंपनियां कई बड़ी प्रदर्शनियां आयोजित करती हैं. बीजिंग में चॉकलेट वंडरलैंड पार्क इसी तरह की चॉकलेट की नुमाइश का गढ़ है.

वंडरलैंड मेले में चॉकलेट के बने गाउन और दिल के आकार में चॉकलेट की प्रदर्शनी लगा रही हैं. युवा इसके साथ खड़े होकर बड़े चाव से तस्वीरें खिंचवाते हैं. इसी तरह शंघाई चॉकलेट हैपी लैंड में होने वाली प्रदर्शनी में एक दूसरी कंपनी मोना लीसा, मर्लिन मुनरो से लेकर लीनिंग टावर ऑफ पीजा के आकार में चॉकलेट की कृतियां पेश कर रही है.

वंडरलैंड आने वालों को हाथ में एक पैम्फलेट भी दिया जाता है जो बताता है कि हर तरह की चॉकलेट अलग संदेश देती है, ठीक उसी तरह जैसे अलग अलग रंगों के फूल अलग संदेश देते हैं. उनके अनुसार डार्क चॉकलेट देने का मतलब है, "मैं तुम्हारी आजादी की इज्जत करता हूं और तुम्हारे लिए एक विश्वसनीय साथी साबित होना चाहता हूं." जबकि सफेद मिंट चॉकलेट का मतलब है, "तुम मेरे सपनों के प्रेमी है."

एसएफ/एजेए (एएफपी)

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री