1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

चीनी सोशल मीडिया कंपनी ने फेसबुक को पछाड़ा

दुनिया की सबसे बड़ी सोशल नेट्वर्किंग कंपनी फेसबुक को चीन की टेनसेंट के हाथों मात खानी पड़ी है. शेयर बाजार में टेनसेंट की कीमत फेसबुक से ज्यादा हो गयी है.

टेनसेंट का नाम दुनिया की पांच सबसे बड़ी कंपनियों में शामिल हो गया है. इसी के साथ ही यह 500 अरब डॉलर की कीमत वाली एशिया की पहली कंपनी बन गयी है. शेयर बाजार में फेसबुक की कीमत 519 अरब डॉलर है, तो टेनसेंट की 523 अरब. हालांकि दुनिया की सबसे महंगी कंपनी एप्पल से यह अब भी काफी पीछे है. एप्पल की कीमत 873 अरब डॉलर बतायी गयी है.

इस साल की आखिरी तिमाही में टेनसेंट का मुनाफा पिछले साल इसी समय की तुलना में 70 फीसदी अधिक रहा. इसके चलते पिछले दिनों से कंपनी के शेयर के दाम आसमान छूने लगे हैं.

आम तौर पर आलोचक चीन पर अमेरिका के आइडिया चुराने का इल्जाम लगाते हैं लेकिन टेनसेंट के मामले में ऐसा नहीं है. कंपनी ने अपने स्मार्टफोन ऐप वीचैट को जिस तरह का रूप दिया है, वह अन्य सोशल मीडिया एप्लिकेशन से काफी हट कर है. व्हॉट्सएप की ही तरह चैटिंग ऐप के रूप में शुरू हुआ वीचैट आज एक ऐसा ऐप है जहां लोग अपनी तसवीरें पोस्ट कर सकते हैं, गेम खेल सकते हैं, पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं और चीन में कई तरह की सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं. चीन के लगभग एक अरब लोग इस ऐप का इस्तेमाल करते हैं और इस पर हर रोज 38 अरब मेसेज भेजे जाते हैं.

पेटीएम की तरह वीचैट के जरिये पैसा ट्रांसफर किया जा सकता है. इसमें मौजूद क्यूआर कोड को चीन के रेस्त्रां, दुकानें, ठेले वाले और यहां तक कई बार तो भिखारी भी इस्तेमाल करते दिखते हैं.

चीन में फेसबुक और ट्विटर पर प्रतिबंध है. इस बात का भी कंपनी को फायदा मिला है. टेनसेंट के पास 1.3 अरब आबादी वाला चीन का बाजार है और प्रतिस्पर्धा कम. देश में यह कंपनी तकनीकी क्रांति ले आई है.

आईबी/ओएसजे (एएफपी, डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री