1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

चीनी सिगरेटों में जहरीली धातु

चीन में बने 13 सिगरेट ब्रांडों में बहुत ज्यादा मात्रा में भारी धातु पाई गई है जो स्वास्थ्य के लिए बहुत खतरनाक है. एक शोध में खुलासा हुआ कि धातु की यह मात्रा कनाडा की सिगरेटों की तुलना में तीन गुना है.

default

कनाडा के रिसर्च ग्रुप ने यह शोध प्रकाशित किया है. इसमें चीन में बनी सिगरेटों और दूसरे देशों में बनी सिगरेटों की तुलना की गई. चीन के सरकारी अखबार पीपल्स डेली ने लिखा है कि शोध के मुताबिक चीन की सिगरेटों में सीसे, आर्सेनिक और कैडमियम भारी मात्रा में मिला है.

वैज्ञानिकों ने कनाडा के उत्पाद को मानक के तौर पर रखा क्योंकि वहां के कानून में सिगरेट उत्पादकों और आयातकों को निर्देश है कि वे भारी धातुओं की मात्रा पर निगाह रखें. इसकी जांच के नतीजे भी सब लोगों के लिए उपलब्ध होते हैं.

Welt- Nichtrauchertag am 31. Mai

सिगरेट में क्या है?

वाटरलू यूनिवर्सिटी में रिसर्च करने वाले ज्योफ्री फॉन्ग बताते हैं कि ज्यादातर लोगों को मालूम नहीं होता कि उनकी सिगरेट में क्या क्या मौजूद है. ये एक गलत परंपरा है. फॉन्ग का कहना है कि डब्ल्यूएचओ का सदस्य होने के नाते चीन की सरकार को अपने लोगों की सिगरेट से हिफाजत के लिए कड़े कदम उठाने चाहिए.

रिसर्च करने वालों ने चीन में बने 76 ब्रांडों के सिगरेट की जांच के बाद मिले नतीजों की दूसरे देशों में बनी सिगरेट से तुलना की. हैरानी की बात यह है कि सिगरेट में वे तत्व भी मौजूद थे जिनका जिक्र उसके डिब्बे पर नहीं है. तंबाकू से जुड़ी एक सरकारी एजेंसी के अधिकारी ने बताया कि चीन में वर्जित तत्वों को सिगरेट में डालने से रोकने के लिए कोई नियम कानून नहीं है. जो नियम है वह सिर्फ कच्चे माल के लिए है जैसे कि सिगरेट में इस्तेमाल किया जाने वाला कागज.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः ए कुमार

DW.COM

WWW-Links