1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

चींटियों की बस्ती से बनी कला

तस्वीर में आप जो पेड़ सा ढांचा देख रहे हैं, दरअसल उसे बनाया गया है चींटियों के घर में जा कर. पिघले हुए एल्युमीनियम से कैसे कला का यह नमूना बन सकता है, जानने के लिए देखें यह वीडियो.

इसे कुदरत और विज्ञान का अद्भुत मिश्रण ही कहेंगे कि बिना किसी बाहरी मदद के, केवल एल्युमीनियम के इस्तेमाल से इतना खूबसूरत आर्टपीस तैयार किया जा सकता है. इस तरह के आर्टपीस लाखों डॉलर में बिकते हैं. लेकिन इन्हें बनाना बेहद आसान है. दो मिनट के वीडियो में दिखाया गया है कि कैसे पिघली हुई धातु को चींटियों के बिल में डाला जाता है.

"एंटहिल आर्ट" वेबसाइट का दावा है कि इन आर्टपीस को बनाने के लिए केवल लाल रंग की चींटियों के बिल के साथ ही छेड़ छाड़ की जाती है. रीफा यानि रेड इंपोर्टेड फायर एंट्स अमेरिका में एक बड़ी समस्या हैं. अक्सर ये लोगों के बगीचों में अपनी बस्तियां बना लेती हैं और ये खतरनाक भी हो सकती हैं. इसलिए लोग पेट्रोल डाल कर यह अन्य तरीकों से आग लगा कर इन्हें खत्म करते हैं. वहीं "एंटहिल आर्ट" एक तीर से दो निशाने लगा रही है. खौलते हुए अल्युमीनियम से चींटियों से भी निजात मिलता है और कलाकारी भी हो जाती है.

DW.COM