1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

चंदा प्रकरण में सारकोज़ी की सांप छछुंदर की स्थिति

फ़्रांस के राष्ट्रपति निकोला सारकोज़ी चंदा प्रकरण के चलते सांप-छछुंदर वाली स्थिति में फ़ंस गए हैं. उन्हें अपने एक विश्वसनीय साथी को पार्टी कोषाध्यक्ष के पद से हटाना पड़ रहा है.

default

मुश्किल में हैं निकोला सारकोज़ी

प्राइम टाइम में एक टेलिविज़न साक्षात्कार में राष्ट्रपति सारकोज़ी ने कहा कि श्रम मंत्री एरिक वोएर्थ उनकी मंत्रीमंडल में बने रहेंगे. उन्होंने कहा कि उनके ख़िलाफ़ सारे संदेह निराधार साबित हो चुके हैं, इसलिए मंत्रीमंडल से उन्हें हटाने का कोई सवाल ही नहीं उठता.

उन्होंने इसके साथ ही कहा कि विवाद ख़त्म करने के लिए वे वोएर्थ के साथ बात कर चुके हैं और उन्होंने सलाह दी है कि पेंशन प्रणाली में सुधार पर पूरा ध्यान देने की ख़ातिर वे पार्टी के कोषाध्यक्ष का पद छोड़ दें.

मशहूर कॉस्मेटिक्स कंपनी लॉरियल की वारिस लिलियाने बेटेनकूर के एक पूर्व एकाउंटेंट ने पुलिस को सूचित किया था कि लिलियाने व उनके पति वर्षों से अनुदारवादी राजनीतिज्ञों को अवैध रूप से चंदा देते रहे हैं. सन 2007 में निकोला सारकोज़ी के राष्ट्रपति चुनाव अभियान के लिए भी चंदा दिया गया था. पूर्व एकाउंटेंट का आरोप है कि सारकोज़ी के चुनाव कोष में डेढ़ लाख यूरो अवैध रूप से दिए गए थे. इस संदर्भ लिलियाने बेटेनकूर व सोसायटी फ़ोटोग्राफ़र फ़्रांसोया मारी बानियेर के घरों की तलाशी ली जा चुकी है.

टीवी साक्षात्कार में राष्ट्रपति सारकोज़ी से सीधे-सीधे नहीं पूछा गया कि वे इस प्रकरण में शामिल थे या नहीं लेकिन दूसरे सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि अक्टूबर में पेंशन सुधार पूरा होने के बाद ही वे मंत्रीमंडल का पुनर्गठन करेंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि वह 2011 के ग्रीष्म के बाद ही तय करेंगे कि वह दूसरी बार राष्ट्रपति का चुनाव लड़ेंगे या नहीं. सारकोज़ी ने इस विचार का भी खंडन किया कि बेटेनकूर मामले की जांच कर रहे सरकारी अभियोक्ता उनके व्यक्तिगत दोस्त होने के नाते पक्षपात कर सकते हैं. कई हलकों से मांग की जा रही है कि राजनीतिक चंदों के मामले की जांच के लिए एक स्वतंत्र जांचकर्ता नियुक्त किया जाए.

सोशलिस्ट पार्टी के नेता मार्टिन ऑब्री ने सारकोज़ी की आलोचना करते हुए कहा है कि इस साक्षात्कार से स्पष्ट है कि उन्हें इसकी कोई ख़बर नहीं है कि फ़्रांस की जनता बेटेनकूर प्रकरण से कितनी नाराज़ है. उन्होंने कहा कि बाकी जनता की तरह उन्हें भी राष्ट्रपति से स्पष्टीकरण की उम्मीद थी, लेकिन वे निराश हैं. आमतौर पर माना जा रहा है कि अगले चुनाव में ऑब्री सारकोज़ी के प्रतिद्वंद्वी हो सकते हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: एन रंजन

संबंधित सामग्री