1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

घूम आइए थाईलैंड, फ्री मिल रहा है वीजा

थाईलैंड ने अपने यहां पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए फ्री टूरिस्ट वीजा कार्यक्रम को बढ़ा दिया है. इसके तहत भारत समेत 21 देशों के पर्यटकों से कोई वीजा फीस नहीं ली जाएगी.

थाई सरकार के एक प्रवक्ता ने जर्मन समाचार एजेंसी डीपीए से फ्री टूरिस्ट वीजा कार्यक्रम की अवधि बढ़ाने का पुष्टि की है. पहले इस कार्यक्रम को मई में खत्म होना था, लेकिन अब यह अगस्त चलेगा. फ्री टूरिस्ट वीजा योजना के तहत विदेश से वीजा अप्लाई करने पर 1000 बाट (28.5 डॉलर) की फीस नहीं देनी होगी. अगर कोई देश में पहुंचकर ही वीजा लेता है तो उसे भी पहले से आधी फीस यानी 1000 बाट देने होंगे.

जिन देशों को यह सुविधा दी गई है उनमें अंडोरा, भूटान, बुल्गारिया, चीन, साइप्रस, इथियोपिया, फिजी, भारत, कजाकस्तान, लात्विया, लिथुआनिया, मालदीव, माल्टा, पापुआ न्यू गिनी, रोमानिया, सान मारिनो, सऊदी अरब, ताइवान, यूक्रेन और उज्बेकिस्तान शामिल हैं.

देखिए सबसे ज्यादा पर्यटक कहां जाते हैं

पिछले हफ्ते थाईलैंड पर्यटन प्राधिकरण ने पर्यटक खर्च में 10 फीसदी की वृद्धि का अनुमान जताया था जो 2.77 ट्रिलियन बाट रहने की उम्मीद है. प्राधिकरण के अनुसार पिछले साल थाईलैंड में 3.3 करोड़ विदेशी पर्यटक पहुंचे थे.

थाईलैंड में पर्यटकों और खास कर चीनी पर्यटकों की घटती संख्या को देखते हुए फ्री टूरिस्ट वीजा जैसे कदमों के एलान किया गया है. पर्यटकों की घटती संख्या के पीछे सस्ते टूर मुहैया कराने वाले ऑपरेटरों के लिए खिलाफ की गई कार्रवाई को जिम्मेदार माना जा रहा है. इसके तहत चीनी सैलानियों पर थाईलैंड में ऐसे उत्पाद या सर्विस लेने के लिए दबाव डाला गया जो उनके टूर पैकेज में नहीं थी.

एके/वीके (डीपीए)

टूरिज्म का काला सच दिखाते पोस्टर

DW.COM

संबंधित सामग्री