1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

घायल बालाक छह हफ्ते के लिए बाहर

जर्मनी के फु़टबॉल कप्तान मिषाएल बालाक एक बार फिर चोट का शिकार हुए. जर्मन लीग बुंडेसलीगा के मैच में घायल होने वाले बालाक छह हफ्ते तक ग्राउंड पर नहीं उतर पाएंगे. चोट की वजह से वह इस साल का वर्ल्ड कप भी नहीं खेल पाए.

default

फिर घायल कप्तान

बालाक की टीम बायर लेवरकूजन ने बताया कि बालाक को घुटने के नीचे चोट लग गई है और उनकी हड्डी में फ्रैक्चर हुआ है. इस वजह से वह छह हफ्ते तक फुटबॉल नहीं खेल पाएंगे. इसके साथ ही तय हो गया कि वह अगले महीने तुर्की और अजरबैजान के खिलाफ होने वाले यूरो कप क्वालीफाइंग मुकाबलों में वो नहीं खेलेंगे. वह शुरू के दो मैच भी नहीं खेल पाए हैं.

फीफा वर्ल्ड कप 2010 से ठीक पहले बालाक चोटिल होकर टीम से बाहर हो गए और उसके बाद से राष्ट्रीय टीम में उनकी जगह पक्की नहीं रही. ऐसे में युवा फुटबॉलर फिलिप लाम को जर्मनी के राष्ट्रीय टीम का कप्तान बना दिया गया. लेकिन बालाक बार बार बोलते रहे कि टीम के असली कप्तान वही हैं. हाल ही में टीम मैनेजर योआखिम लोएव ने जब यूरो कप क्वालीफाइंग के लिए जर्मनी की टीम का एलान किया तो उसमें बालाक का नाम ही शामिल नहीं था. हालांकि कोच का कहना है कि बालाक को टीम से निकाला नहीं गया है.

Fußball Bundesliga Hannover 96 - Bayer 04 Leverkusen Flash-Galerie

चोट से उबरने के दौरान ही बालाक को इंग्लैंड के मशहूर क्लब चेल्सी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया और उन्हें अपने पुराने क्लब जर्मनी के बायर लेवरकूजन में लौटना पड़ा. पर पूरी तरह फिट न हो पाने की वजह से राष्ट्रीय टीम में वापसी नहीं हो पाई.

अब नई चोट ने बालाक के राष्ट्रीय करियर पर एक बार फिर सवाल उठा दिया है. हालांकि बालाक खुद खेलते रहना चाहते हैं लेकिन ओलिवर कान जैसे दिग्गज फुटबॉलरों का मानना है कि बालाक को राष्ट्रीय खेल छोड़ अपने क्लब फुटबॉल पर ध्यान देना चाहिए. बालाक ने जर्मनी के लिए 98 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं.

करीब आठ साल पहले बालाक उस वक्त सुर्खियों में आ गए, जब उन्होंने अपने दम पर टीम को वर्ल्ड कप 2002 के फाइनल तक पहुंचा दिया. मिडफील्ड के खिलाड़ी होते हुए भी उन्होंने कई अहम मौकों पर अपनी टीम के लिए जरूरी गोल किए. इसके बाद से टीम में उनकी जगह पक्की हो गई. जल्द ही उन्हें कप्तान भी बना दिया गया. इसके बाद से जर्मनी हर बार के वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल तक पहुंचा है. लेकिन इस बार बालाक वर्ल्ड कप में नहीं खेल पाए. लगातार चोट की वजह से 34 साल के बालाक के करियर पर सवाल उठने लगे हैं.

रिपोर्टः डीपीए/ए जमाल

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links