1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

घर में कैसे रहती हैं जर्मन चांसलर?

आलू का सूप, शास्त्रीय संगीत, चेरी वाइन, मर्दों की खूबसूरत आंखें और योआखिम सावर, यूरोप और दुनिया की राजनीति के अलावा चांसलर अंगेला मैर्केल के संसार में और भी बहुत चीजों की जगह है.

वास्तव में अंगेला मैर्केल कैसी हैं? बहुत से जर्मनों के लिए उनकी चांसलर एक सजग लेकिन चतुर मैनेजर हैं और समस्याओं से भरी दुनिया का सामना दक्षता से करती हैं. देश में राष्ट्रीय चुनाव से पहले 63 साल की चांसलर ने अपने निजी जिंदगी को भी लोगों के सामने रखा है जो आमतौर पर पहरेदारों से घिरी और पर्दे में रहती है.

BdT Bundeskanzlerin Angela Merkel, Mitte, verlaesst in Berlin am Montagmorgen, 20. August 2007, mit ihren Personenschuetzern ihre Wohnung im Bezirk Berlin-Mitte (AP)

चार साल पहले जब पिछले चुनाव हुए थे तब यूरोप की इस सबसे ताकतवर नेता ने माना था कि खूबसूरत आंखों वाले मर्द उन्हें भाते हैं और स्कूल के दिनों में वो चेरी वाइन पी कर टल्ली हो जाती थीं. चौथी बार चांसलर बनने के लिये प्रचार में जुटीं मैर्केल ने अपनी निजी जिंदगी में पत्रकारों को थोड़ा घुसने का मौका दिया है. मध्य बर्लिन के उनके निजी अपार्टमेंट में फोटोग्राफरों को उन्होंने आने दिया और जर्मनी के मशहूर पोटैटो सूप बनाने की अपनी रेसिपी भी लोगों को बताई. जर्मनी की गॉसिप पत्रिका बुंटे को मैर्केल ने बताया, "सूप बनाने के लिए मैं आलुओं को मशीन की बजाय मैशर का इस्तेमाल कर हाथों से तोड़ती हूं. इससे इसमें छोटे छोटे टुकड़े रह जाते हैं." 

सरकारी आवास में रहने की बजाय अंगेला मैर्केल और उनके पति योआखिम सावर कई सालों से एक चार मंजिली इमारत के अपार्टमेंट में रह रहे हैं. यहां से शहर के कई बड़े म्यूजियम नजर आते हैं जो दुनिया की सांस्कृतिक विरासतों में शामिल हैं. महिलाओं की पत्रिका हॉयटे वोखे में मैर्केल के घर की कई तस्वीरें छपी है जिनमें वूडेन फ्लोर, सफेद दीवारे और लिविंग रूम में भूरे रंग के सोफे के पास विशाल आईना नजर आता है. इसके साथ ही एक साफ और व्यवस्थित रसोई भी नजर आती है जिसमें एक छोटा सा टेबल है. मैर्केल ने बुंटे से कहा कि उन्हें देर रात को खाना पसंद है.

बर्लिन की सबसे ज्यादा सैलानियों की आमदरफ्त वाले इलाके में सैलानी अकसर मैर्केल को देर रात या फिर सुबह में ऑफिस की गाड़ी से पास ही मौजूद चांसलर के दफ्तर आते जाते देखते हैं. प्रोटेस्टेंट पादरी की बेटी अंगेला मैर्केल साम्यवादी पूर्वी जर्मनी में पली बढ़ीं और जर्मन संस्कृति में उनकी गहरी दिलचस्पी है. पिछले महीने उन्होंने दुनिया की 20 बड़ी आर्थिक शक्तियों के संगठन के नेताओं की हैम्बर्ग में मेजबानी की तो उनके सामने बीथोफेन की नाइंथ सिंफनी का प्रदर्शन हुआ. मकसद था दुनिया को जर्मनी के सांस्कृतिक वैभव को दिखाना. अंगेला मैर्केल खुद भी बांसुरी और पियानो बजाती हैं और उन्होंने कहा था, "मैं शास्त्रीय संगीत को पसंद करती हूं."

जर्मन चांसलर ने अपनी सालाना छुट्टियों की शुरुआत की बायरयूथ में रिचर्ड वागनर ऑपेरा फेस्टिवल से की. जर्मन चांसलर बनने से पहले वो बर्लिन के ओपेरा हाउस में भी नियमित रूप से जाती रही हैं. पिछले 12 साल से यूरोप की अर्थव्यवस्था को नियंत्रित कर रहीं मैर्केल ने युवा वीडियो ब्लॉगरों को पिछले हफ्ते अपने प्रिय इमोजी के बारे में बताया, "स्माइली, अगर कुछ सचमुच बहुत अच्छा है तो उसके बगल में छोटा सा दिल भी." 

मैर्केल आमतौर पर अपनी निजी जिंदगी और राजनीति के बीच एक फासला बनाये रखती हैं. वह सावर के साथ सार्वजनिक रूप से बहुत कम नजर आती हैं जो उनके दूसरे पति हैं. क्वांटम केमिस्ट्री के प्रोफेसर सावर हमेसा उनकी पत्नी को घेरे रहने वाली मीडिया के तमाशे से कभी कभी कुछ परेशान हो जाते हैं. 

चांसलर मैर्केल के शुरुआती दिनों में लिये एक वीडियो में मैर्केल सावर के साथ एक बीच पर बाहों में बाहों डाले नजर आईं थीं. सावर के हाथों में एक छाता था जिससे वो खुद को कैमरे की नजरों में आने से बचा रहे थे. जर्मनी की रूढ़िवादी पार्टी क्रिश्चियान डेमोक्रैट की प्रमुख ने पुराने इंटरव्यू में इस बात का जिक्र किया है कि उनके खाने के स्वाद पर 35 साल के साम्यवादी शासन का असर है. मैर्केल पहले यह भी बता चुकी हैं कि वह अकसर शनिवार की शाम को लाल गाजर के साथ बीफ बनाती थीं. ये तब की बात है जब वह और उनके पति सप्ताहांत में अपने बर्लिन के उत्तर में बसे एक गांव के वीकेंड हाउस में जाने के लिए समय निकाल लेते थे. बुंटे को दिये इंटरव्यू में मैर्केल ने अपने पति सावर की यह कहते हुए तारीफ की कि वो रोजमर्रा की जिंदगी को चलाते रहने में उनकी काफी मदद करते हैं. पढ़ाई लिखाई के लिहाज से भौतिकशास्त्री मैर्केल अपने पति के बारे में कहती हैं, "वह हमेशा मेरी मदद करते हैं, अकसर हमारे लिए शॉपिंग करते हैं."

कई बार चांसलर नीले पर्स के साथ दुकानों में खरीदारी करती नजर आती हैं. सावर भी सुपरमार्केट में कैशियर के सामने कतार में खड़े दिखते हैं. इन दुकानों में बर्लिन की फ्रेंच डिपार्टमेंट स्टोर गैलेरी लाफायेट भी शामिल है.

चुनाव प्रचार की व्यस्तता केबावजूद मैर्केल की नजरें अपने आगंन में उग रही आलू की फसल पर भी रहती है जिनसे कि सूप बनाये जाएंगे. उन्होंने बुंटे से कहा, "ये अच्छे दिख रहे हैं लेकिन फसल अभी घर में नहीं आई है."

एनआर/ओएसजे (डीपीए)

संबंधित सामग्री