1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

घरेलू मर्द यानी खराब सेक्स

अगर मर्द अच्छा सेक्स जीवन चाहते हैं तो उन्हें चाहिए घरेलू कामों से दूर रहें. भला सेक्स का घरेलू काम से क्या रिश्ता?

अमेरिकन सोशियोलॉजिकल रिव्यू में छपी रिपोर्ट के अनुसार वे पुरुष जो घरेलू कामों में बहुत ज्यादा व्यस्त रहते हैं उनका सेक्स जीवन अच्छा नहीं होता. घर की सफाई, खाना बनाना या घरेलू खरीदारी करने वाले पुरुषों को ये काम अकसर महंगे पड़ते हैं.

मैड्रिड के ख्वान मार्श इंस्टीट्यूट में काम करने वाले इस रिसर्चर साबीनो कार्नरिश ने बताया, "हमने पाया कि आम तौर पर जो पुरुष घरों में काम करने में व्यस्त रहते हैं, उनका सेक्स जीवन उन पुरुषों के मुकाबले फीका होता है जो बाहर के काम ज्यादा करते हैं." उनकी रिसर्च अमेरिका के दंपतियों और परिवारों के राष्ट्रीय सर्वे पर आधारित है. इस रिसर्च में वॉशिंगटन विश्विद्यालय की जूली ब्राइंस और कैटरीना ल्यूप ने कार्नरिश का साथ दिया.

घर की सफाई, खाना बनाना या घरेलू खरीदारी करने वाले पुरुषों को ये काम अकसर महंगे पड़ते हैं

घर की सफाई, खाना बनाना या घरेलू खरीदारी पुरुषों को महंगी पड़ती है.

उन्होंने पाया कि ऐसे परिवारों में जहां मर्द बहुत घरेलू होते हैं मर्दों का महीने में सेक्स का औसत 5.2 बार होता है. जबकि वे परिवार जहां मर्द घर के बाहर के काम और औरतें घर के अंदर के कामों की जिम्मेदारियां निभाती हैं उनमें मर्दों का सेक्स औसत इससे कहीं अधिक है. कार्नरिश कहती हैं अगर पारंपरिक तरीके से काम का बंटवारा होता है तो महिलाओं और पुरुषों दोनों में सेक्स की इच्छा बनी रहती है. हालांकि कार्नरिश यह भी मानती हैं कि कई बार मर्दों के घरेलू कामों में मदद न करने से परिवार में क्लेष भी पैदा हो जाता है और ऐसे वैवाहिक जीवन में तनाव आ जाता हैं.

पहले आई एक रिपोर्ट में यह बात सामने आई थी कि महिलाओं की शादी शुदा जीवन को लेकर संतुष्टि काफी हद तक उनके साथी के सहयोग पर निर्भर करती है. मतलब हुआ कि मर्दों को घरेलू कामों में महिलाओं का साथ देना चाहिए.

एसएफ/एजेए (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री