1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

ग्वांगजो एशियन गेम्स का उदघाटन आज

ग्वांगजो में 16वें एशियाई खेलों की आज से शुरुआत हो रही है. एशियन गेम्स उदघाटन समारोह की भव्यता और चमक दमक में चीन बीजिंग ओलंपिक की याद को भी धुंधला कर देना चाहता है. समारोह स्टेडियम में नहीं, नदी किनारे होगा.

default

ग्वांगजो एशियाई खेलों का उदघाटन समारोह अपने आप में अनूठा साबित होगा. हायशिन्शा द्वीप पर पर्ल नदी के किनारे समारोह आयोजित होगा. यह नदी ग्वांगजो शहर से होकर गुजरती है और इस तरह मानो पूरा शहर उदघाटन समारोह का हिस्सा होगा. उदघाटन और सांस्कृतिक कार्यक्रम के निदेशक ही जायशिंग ने बताया कि पर्ल नदी का एक मंच के तौर पर इस्तेमाल किया जाएगा जबकि पूरा शहर पृष्ठभूमि के रूप में पेश होगा.

जायशिंग का कहना है कि उदघाटन समारोह को स्टेडियम से बाहर करने का प्रस्ताव पहली बार 2008 में पेश किया गया. खेलों के इतिहास में समारोह को स्टेडियम से बाहर ले आना अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है.

रंगारंग समारोह में दक्षिणी चीन की सभ्यता, संस्कृति के नजारे देखने को मिलेंगे. आयोजकों ने अभी तक यह नहीं बताया है कि मशाल को आखिरी दौर में कौन थामेगा और कुंड को किस तरह से प्रज्जवलित किया जाएगा.

एशियन गेम्स 12 नवंबर से 27 नवंबर तक चलेंगे और ये अब तक के सबसे बड़े खेल होने जा रहे हैं. इसमें 45 देशों के 9,704 एथलीट और 4,750 अधिकारी हिस्सा लेंगे. 42 स्पर्धाएं होंगी. पहली बार क्रिकेट को भी शामिल किया गया है लेकिन भारत ने अपनी क्रिकेट टीम नहीं भेजी है. कई अन्य देशों ने दूसरे दर्जे की टीम को ग्वांगजो भेजा है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: उज्ज्वल भट्टाचार्य