1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ग्रीस रूस शिखरभेंट पर बंटी ट्विटराटी

ग्रीस के प्रधानमंत्री अलेक्सिस सिप्रास ने मॉस्को में राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन से मुलाकात की. जब यूक्रेन विवाद के कारण अधिकतर यूरोपीय देश रूस से किनारा कर रहे हैं इस दौरे से यूरोप में भृकुटियां चढ़ी.

राष्ट्रपति पुतिन ने कहा है कि ग्रीक प्रधानमंत्री ने बातचीत के दौरान उनसे वित्तीय मदद की मांग नहीं की. ग्रीस यूरोपीय ऋणदाताओं के साथ बातचीत में समय की कमी का सामना कर रहा है जो कि और कर्ज देने से पहले ग्रीस से सुधारों की सूची चाहता है. यदि नया कर्ज नहीं मिला तो ग्रीस पुराने कर्ज का ब्याज और किस्त चुकाने की हालत में नहीं रहेगा.

रूस से मदद नहीं मांगने पर यूरोपीय देशों ने भले ही चैन की सांस ली हो लेकिन अलेक्सिस सिप्रास के रूस जाने से नाराजगी पर पॉल फ्रांडानो ने ट्वीट किया है कि क्या हो अगर आप ऐसा पीएम चुनें जो जिंदगी भर परंपराओं को ठुकराता आया हो.

पुतिन और सिप्रास की मुलाकात पर एम्मा बरोज ने लिखा कि ऐसा लगता है कि दोनों को वह नहीं मिला जो वे सिप्रास की इस यात्रा से चाहते थे.

ग्रीस के प्रधानमंत्री के रूस दौरे का एक महत्व यह भी है कि वे दिखा सकें कि ग्रीस यूरोपीय संघ में रहने के बावजूद संप्रभु देश है और वह अपने फैसले खुद करेगा.

अलेक लून ने इस दौरे को विफल बताया क्योंकि ग्रीस को वित्तीय मदद देने का फैसला नहीं हुआ.

कुछ ऐसे भी हैं जिंहे सिप्रास का दौरा सफल दिखा. कोस्तिस जेरोपुलस ने ट्वीट किया दोनों नेता ऊर्जा और व्यापार सहयोग पर सहमत रहे.