1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ग्बैगबो के युवा समर्थक ओउतारा से संघर्ष करेंगे

आइवरी कोस्ट के राष्ट्रपति लॉरेन्ट ग्बैगबो के करीबी ने एलान किया है कि वो युवा समर्थकों के साथ राष्ट्रपति के प्रतिद्वंदी अलासाने ओउतारा से संघर्ष करेंगे. चार्ल्स ब्ले गौडे ने ओउतारा के तंत्र को उखाड़ फेंकने की बात.

default

बुधवार को आबिदजान में युवा समर्थकों की शोर मचाती भीड़ के सामने ग्बैगबो के सहयोगी चार्ल्स ब्ले गौडे ने कहा, " एक जनवरी से मैं और आइवरी कोस्ट के युवा गोल्फ होटल को आजाद कराएंगे, अब वक्त आ गया है कि आइवरी कोस्ट को आजाद कराया जाए." ओउतारा अपने प्रस्तावित मंत्रिमंडल के साथ गोल्फ होटल में रह रहे हैं. संयुक्त राष्ट्र के 800 शांति सैनिकों का दस्ता और पूर्व विद्रोही उनकी हिफाजत कर रहे हैं.

राजनीतिक कार्यकर्ता और देश के एक धड़े के नेता ब्ले गौडे को ग्बैगबो ने युवा और रोजगार मामले का मंत्री बनाया है. गौडे 2004 में फ्रांसीसी नागरिकों के खिलाफ देश में दंगा भड़काने के लिए कुख्यात हैं. उनकी इसी हरकत की वजह से संयुक्त राष्ट्र ने उन पर प्रतिबंध लगा दिया. गौडे बुधवार को एक बड़ी रैली करने वाले थे पर उसे रद्द कर दिया गया. इसकी जगह उन्होंने अपने कुछ हजार कट्टर समर्थकों के साथ एक बैठक की और आइवरी कोस्ट की राजनीतिक संकट को क्षेत्रीय कूटनीति के जरिए खत्म करने का एलान किया. गौडे ने कहा, "हम आइवरी कोस्ट के लिए जान देने को तैयार हैं." इसके साथ ही गौडे ने कहा कि उनके समर्थक खाली हाथ होंगे लेकिन बड़ी संख्या के बलबूते ओउतारा के समर्थकों को धूल चटा देंगे.

ओउतारा और ग्बैगबो दोनों ने 28 नवंबर को हुए राष्ट्रपति चुनाव जीतने का एलान किया. अलासाने ओउतारा की जीत को अंतरारष्ट्रीय बिरादरी ने मान्यता दी है लेकिन ग्बैगबो पद छोड़ने के लिए तैयार नहीं हैं.

पश्चिमी अफ्रीकी देशों के संगठन इकोवास ने बल प्रयोग की चेतावनी दी है लेकिन उनकी बनाई मध्यस्थों की टीम अलग अलग राजधानियों के बीच दौरा कर कूटनीतिक प्रयासों से मामले को हल करने में जुटे हैं. अभी तक कोई भी पक्ष पीछे हटने को तैयार नहीं हुआ है. गोल्फ होटल तक जाने के रास्ते पर संयुक्त राष्ट्र के शांति सैनिक और ओउतारा के समर्थक तैनात हैं.

ब्ले गाउडे ने प्रधानमंत्री पद के लिए अलासाने की पसंद गुइलाउमे सोरो को भी चेतावनी दी है. गौडे ने कहा, "हमें होल्फ होटल पर जरूर हमला करना चाहिए और गुइलाउमें सोरो को पकड़ लेना चाहिए. आइवरी कोस्ट की जनता गोल्फ होटल रिपब्लिक में रहने वाले पड़ोसियों से तंग आ चुकी है. हर रोज गुइलाउमें सोरो और उसकी सेना हमें धमकी देती है और हमारा मजाक बनाती है."

इस बीच वहां जरूरी सामानों की आपूर्ति में जुटी संयुक्त राष्ट्र की गाड़ियों को भी बाधाओं का सामना करना पड़ रहा है. ग्बैगबो समर्थकों ने संयुक्त राष्ट्र के एक काफिले पर हमला किया और बांग्लादेशी सैनिकों को नुकसान पहुंचाया. संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन के अधिकारियों ने आइवरी कोस्ट के सरकारी टेलीविजन पर यूएन के खिलाफ लोगों को भड़काने का आरोप लगाया है. संयुक्त राष्ट्र देश में गृहयुद्ध छिड़ने की पहले ही आशंका जता चुका है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links