1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

गोलाबारी के डर से घर में दुबके लोग

विभाजित कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर भारत पाक सेनाओं के बीच भारी गोलाबारी हो रही है और सीमा पर रहने वाले लोग कह रहे हैं कि वे डर से अपने घरों में बंद हैं. पाकिस्तान ने विरोध के लिए भारतीय उच्चायुक्त को तलब किया.

नियंत्रण रेखा पर स्थित धर्मसाल गांव भारतीय चौकी से कुछ ही मीटर की दूरी पर है. गांव वासियों का कहना है कि भारतीय गोलाबारी की वजह से बुधवार से वहां पुंछ नदी पार कराने वाली नावें बंद पड़ी हैं. एक घर में छुपे 38 साल के शौकत बट कहते हैं, "हम खौफ में हैं. हम बाहर नहीं निकल सकते क्योंकि यहां लगातार गोलियां चल रही हैं. हम नाव से नदी पार करते थे, लेकिन कल भारतीय सैनिकों ने नाव पर गोलियां चलाईं. इसलिए सब घर में छुपे हैं, नावें बंद पड़ी हैं."

धर्मसाल बट्टल इलाके का हिस्सा है जहां पाकिस्तान ने भारतीय सैनिकों पर गोलीबारी शुरू करने का आरोप लगाया. इस गोलीबारी में गुरुवार को एक पाकिस्तानी सैनिक मारा गया. रविवार से यह दोनों देशों की सेनाओं में झड़प का तीसरा मामला था. भारतीय सेना की चौकी गांव के सामने पहाड़ी पर है जबकि पाकिस्तानी चौकी वहां से नीचे गांव और नदी के सामने है.

35 साल की नजिया बीबी अपने तीन बच्चों को तितरीनोट कस्बे में छोड़कर अपने मां-बाप को देखने 12 किलोमीटर दूर शहर हजीरा आईं हैं. उन्हें तितरीनोट लौटने में डर लग रहा है. "मैं अपने बच्चों को लेकर बहुत चिंतित हूं. मैं चाहती हूं कि गोलीबारी रुक जाए." नजिया बीबी का कहना है कि भारतीय सैनिक आम लोगों पर लगातार फायरिंग कर रहे हैं. "हम और हमारे बच्चे इस हालत में सुरक्षित नहीं हैं. हमें शांति चाहिए."

गोलीबारी के चलते तितरीनोट से हजीरा जाने वाली सड़क भी बंद कर दी गई है. यह सड़क भारत और पाकिस्तान के बीच सामान की सप्लाई का मुख्य रास्ता है. सड़क के किनारे पर मौजूद रेस्तरां के मालिक इस्तियाक अहमद कहते हैं, "मैंने यह रेस्तरां पांच साल पहले शुरू किया, संघर्षविराम के दिनों में अच्छा काम चल रहा था, लेकिन कल से मुझे अपनी जान की चिंता है, बिजनेस नहीं हो रहा है. इलाके के एक अधिकारी मुश्ताक अहमद का कहना है कि फायरिंग की वजह से 40,000 लोगों का आना जाना रुक गया है.

मंगलवार को भारत ने कहा था कि पाकिस्तानी सैनिकों ने नियंत्रण रेखा के भीतर घुसकर उसके दो सैनिकों को मार डाला. उनमें से एक का सर काट लिया गया. पाकिस्तान ने इसमें अपने सैनिकों की जिम्मेदारी होने से मना किया है. रविवार को पाकिस्तान ने भारत पर एक सैनिक को मारने का आरोप लगाया था. भारत का कहना है कि उसके सैनिकों ने पाकिस्तानी सैनिकों की गोलाबारी के जवाब में फायरिंग की.

Pakistan Unruhen Protest

भारत में पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन

उधर पाकिस्तान ने एक और सैनिक की मौत पर विरोध जताने के लिए भारतीय उच्चायुक्त को विदेश मंत्रालय में तलब किया. पिछले पांच दिनों में यह चौथी मौत है. पाकिस्तान का कहना है कि भारत ने बिना किसी उकसावे के गोलियां चलाईं जबकि भारत का कहना है कि पाकिस्तान ने लड़ाई शुरू की, भारतीय सैनिकों ने उसका जवाब दिया.

अमेरिका ने परमाणु हथियारों से लैस दोनों देशों को विभाजित कश्मीर की सीमा पर तनाव कम करने के लिए कहा है. मुस्लिम बहुत प्रांत कश्मीर 1947 से ही दोनों देशों के बीच विवाद का कारण है. 2003 से नियंत्रण रेखा पर छिटफुट वारदातों को छोड़कर संघर्ष विराम लागू है.

एमजे/एनआर (रॉयटर्स, एएफपी)

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री