1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

गृह मंत्रालय पहुंची अफजल गुरु की फाइल

चार साल के बाद आखिरकार संसद पर हमले के दोषी अफज़ल गुरु की याचिका वाली फाइल भारत के गृह मंत्रालय को भेज दी गई है. दिल्ली की अदालत ने 2002 में अफज़ल को फांसी सुनाई थी जिसे उच्च न्यायाललय ने 2003 के फैसले में बरकरार रखा.

default

दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर तेजिंदर खन्ना ने फाइल केंद्र सरकार को भेज दी. दिल्ली सरकार के पास चार साल से ये फाइल पड़ी थी. बहरहाल दिल्ली सरकार ने फांसी की सज़ा का समर्थन करते हुए कहा कि जब उसे ये सज़ा दी जाए तो कानून व्यवस्था पर बारीकी से नजर रखी जानी चाहिए.

पीटीआई ने उच्चाधिकारी के हवाले से लिखा है, लेफ्टिनेंट गवर्नर ने अफजल गुरु की दया याचिका वाली फाइल केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेज दी है. केंद्र सरकार के 16 बार फाइल मांगने के बाद दिल्ली सरकार ने ये फाइल वहां भेजी.

अफज़ल गुरु को दिसंबर 2001 में संसद पर हमले के मामले में दोषी करार दिया था. इसके बाद 2002 में दिल्ली अदालत ने उसे फांसी की सज़ा सुनाई जिसे अक्तूबर 2003 में हाईकोर्ट ने बरकरार रखा. बाद में सुप्रीम कोर्ट ने भी 2005 में इस सजा को बनाए रखा.

अफजल गुरु की फांसी और पाकिस्तान में कैद भारतीय सैनिक सरबजीत सिंह का मामला एक दूसरे से जुड़ा रहा. भारत और पाकिस्तान, दोनों ही देश इनका एक तरह से राजनीतिक कारणों के लिए इस्तमाल कर रहे थे.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा मोंढे

संपादनः ए जमाल

संबंधित सामग्री