1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

गूगल ने अमेरिकी गृह मंत्रालय पर मुकदमा ठोका

सर्च इंजन गूगल ने अमेरिका के गृह मंत्रालय पर मुकदमा ठोक दिया है. गूगल का आरोप है कि संघीय एजेंसी ने मंत्रालय के 88000 कर्मचारियों के लिए ई मेल और दूसरे सॉफ्टवेयर के लिए करार में माइक्रोसॉफ्ट को फायदा पहुंचाया.

default

अमेरिका के संघीय मामलों की कोर्ट में दायर किए गए मुकदमे में गूगल ने आरोप लगाया है कि गृह मंत्रालय ने पत्र लिख कर ऑनलाइन सेवाओं से गूगल को बाहर करने के लिए और सिस्टम में माइक्रोसॉफ्ट बिजनस प्रोडक्टिविटी ऑनलाइन सूट को शामिल करने के लिए कहा. अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल ने यह खबर छापी है.

गूगल ने अपनी शिकायत में कहा है कि गृह मंत्रालय का सिर्फ माइक्रोसॉफ्ट पर विचार करने के फैसले ने दूसरी कंपनियों को प्रतियोगिता से बाहर कर दिया और उन पर गैरजरूरी रोक लगा दी. अमेरिकी गृह मंत्रालय अपने 88 हजार कर्मचारियों के लिए नए ईमेल डोमेन की तलाश में है. फिलहाल उसके कर्मचारी अलग अलग 13 डोमेन का इस्तेमाल कर रहे हैं.

गूगल ने यह भी आरोप लगाया है कि अगर मेल सिस्टम के लिए करार करने की प्रक्रिया खुली होती तो अमेरिकी करदाताओं के करोड़ों डॉलर की बचत होती और गृह मंत्रालय को एक बढ़िया सिस्टम भी मिल जाता.

गूगल ने मेल सिस्टम के रूप में गूगल एप्स नाम से एक नया एप्लीकेशन भी तैयार किया है. गृह मंत्रालय ने गूगल के आरोपों पर फिलहाल कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. समाचार एजेंसी एपी के एसएमएस से भेजे गए सवाल का भी कोई जवाब नहीं दिया गया.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः वी कुमार

DW.COM

WWW-Links