1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

गूगल और स्काइप भी घेरे में

भारत सरकार गूगल और स्काइप को नोटिस भेजने वाली है कि वे अपना डाटा सरकार को दें. सरकार रक्षा चिंताओं के कारण ब्लैकबेरी फोन से भी डाटा मांग चुकी है. इसके बाद गूगल और स्काइप से जानकारी मांगी जा रही है.

default

स्काइप पर शिकंजा

भारतीय गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि भारत सरकार गूगल और स्काइप से अपने सर्वर भारत में लगाने को कहेगी और साथ ही इंटनेट डाटा देने की भी मांग की जाएगी. रक्षा चिंता के मद्देनज़र कई और देशों के साथ ही भारत ने भी कहा है कि वह ईमेल और इंटरनेट डाटा चाहता है. ब्लैकबेरी बनाने वाले कंपनी रिसर्च इन मोशन (आरआईएम) पहले ही भारत सरकार को डाटा देने पर राजी हो चुकी है.

Flash-Galerie Deutschland Wochenrückblick 2010 KW 33 Google Street View

भारत के गृह सचिव जीके पिल्लई ने पत्रकारों को बताया कि ब्लैकबेरी की ही तरह गूगल और स्काइप को भी डाटा देने के लिए कहा जाएगा. इसके लिए दोनो कंपनियों को नोटिस भेजा जाएगा. लेकिन ये नोटिस कब भेजा जाएगा इस बारे में पिल्लई ने कोई जानकारी नहीं दी.

ब्लैकबेरी की ईमेल और एसएमएस डाटा सिक्योरिटी की वजह से उसे दुनिया भर में पसंद किया जाता है. अगर वह डाटा देता है तो उसकी साख ख़तरे में है और नहीं देता तो बाज़ार खतरे में.

एपल और नोकिया भारत में स्मार्ट फोन की टक्कर में हैं अगर ब्लैकबेरी की सेवाओं पर प्रतिबंध लग जाता है तो इन दोनों कंपनियों को फायदा हो सकता है. नोकिया ने सोमवार को ही घोषणा की है कि वह भारत में सर्वर लगा रहा है.

रिपोर्टः एजेंसियां आभा एम

संपादनः ए जमाल

DW.COM

WWW-Links