1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

गुर्जर आंदोलन के कारण विमान किराया आसमान पर

राजस्थान में आरक्षण की मांग के साथ गुर्जर आंदोलन तेज हो रहा है और इस कारण आम जनता को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. रेल यातायात को रोका जा रहा है और हवाई कंपनियां मुनाफा कमाने में लगी हैं.

default

बुकिंग फुल होने के कारण हवाई कंपनियों ने जयपुर दिल्ली और जयपुर मुंबई का भाड़ा बढ़ा दिया है. अगले दो दिन तक सभी उड़ाने फुल हैं

यात्रियों के पास दुगना, तिगुना भाड़ा देने के अलावा और कोई चारा नहीं है क्योंकि गुर्जर आंदोलन के कारण कई ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं.

जयपुर की एक ट्रेवल एजेंट अंजना ब्रहम का कहना है, "पिछले दो तीन दिनों में हवाई यात्रा भाड़ा लगातार बढ़ा है. कल तक जयपुर दिल्ली की उड़ान की कीमत आठ हजार रूपये थी तो एक ही दिन बाद यह दस हजार हो गई. जबकि मुंबई जयपुर का किराया सामान्य दिनों में छह सात हजार होता है और फिलहाल यह 12 हजार रुपये है."

राजस्थान में दिसंबर का महीना पर्यटन की दृष्टि से बहुत अहम होता है और ऐसे समय में ट्रेनों के रद्द होने से इस पर काफी असर पड़ सकता है.

कुछ ही दिन पहले राजस्थान हाई कोर्ट ने कहा कि गुर्जर समुदाय को सरकारी नौकरियों में विशेष आरक्षण नहीं दिया जा सकता है. जस्टिस अरुण मिश्रा और महेश भगवती की डिविजन बेंच ने कहा कि गुर्जरों को विशेष कोटा नहीं दिया जा सकता और 2008 के कानून में ऐसा कोई आधार नहीं है जिससे आरक्षण को उचित ठहराया जा सके. इसके बाद गुर्जरों ने फिर से आंदोलन करने की चेतावनी दी थी.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः एन रंजन

DW.COM