1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

गिलफोर्ड्स पर हमला राष्ट्रीय त्रासदीः ओबामा

एरिजोना में हुई फायरिंग को अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने राष्ट्रीय त्रासदी कहा. अरीजोना के एक स्टोर में हमलावर ने अंधाधुंध फायरिंग कर एक सांसद और एक जज समेत कई लोगों गोली मार दी. जांच एफबीआई के शीर्ष अधिकारियों को.

default

घटना के फौरन बाद अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने बयान दिया. उन्होंने हमले में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना जताते हुए कहा, ''यह पूरे देश के लिए एक त्रासदी है. ऐसे परिवार जो इसके पीड़ित बने उनके लिए त्रासदी शब्द भी छोटा है. हमारे पास अब भी कई जवाब नहीं हैं. हम यही जानते हैं कि यह हिंसा का एक बुरा और मतलबहीन नमूना है. हम देशवासियों से अपील करते हैं कि वह गिलफोर्ड्स के लिए प्रार्थना करें.''

ओबामा के मुताबिक हमले की जांच एफबीआई के सर्वोच्च अधिकारी करेंगे. एफबीआई के निदेशक राबर्ट म्यूलर को एरिजोना रवाना कर दिया गया है. वह जांच का काम खुद देखेंगे. संदिग्ध हमलावर को गिरफ्तार कर लिया गया है. हालांकि अभी तक हत्या का मकसद पता नहीं चल सका है.

गिलफोर्ड्स पर एक बार पहले भी हमला हो चुका है. उनकी पार्टी के न्यूयॉर्क से सांसद जेरॉल्ड नाडलर ने कहा कि गिलफोर्ड्स को जान से मारने की धमकी मिली थी और उन पर हमला भी हो चुका था. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक पिछले साल अगस्त में डलास में एक राजनीतिक कार्यक्रम के दौरान भी उन पर हमले की कोशिश की गई. ऐन वक्त पर पुलिस सायरन बजाती हुई मौके पर पहुंची, इससे हत्यारा पिस्टल मौके पर ही गिराकर भाग गया.

शनिवार को हुए हमले को लेकर जानकारियां अब भी पूरी तरह साफ नहीं हैं. इस संबंध में ओबामा ने कहा, ''हम अब भी कई जानकारियों और तथ्यों को जुटा रहे हैं. हमें पता है कि सांसद गिलफोर्ड्स भी इस हमले का शिकार हुई हैं. वह अस्पताल में हैं और जिंदगी के लिए लड़ रही हैं.''

अमेरिकी सरकार के मुताबिक हमले में एक बच्ची और एक संघीय अदालत के जज समेत पांच लोगों की मौत हो चुकी है. कुछ घायलों को गंभीर चोटें आईं हैं, जिनमें डेमोक्रेटिक सांसद गैबरियला गिफोर्ड्स भी शामिल हैं. एक चश्मदीद के मुताबिक करीब 15 राउंड गोलियां चलीं.

इस हत्याकांड ने अमेरिकी राजनेताओं को हिला दिला है. विपक्षी रिपब्लिकन पार्टी के नेता और सदन के स्पीकर जॉन बोएहनर ऐसे दोषियों को कड़ी सजा देने की मांग की है. उन्होंने कहा, ''जनसेवा करने वाले लोगों को धमकी देने वालों और उन पर हमला करने वालों की समाज में कोई जगह नहीं है. हमारी प्राथर्नाएं गिलफोर्ड्स के साथ हैं.''

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: ए जमाल