1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

गाजा संकट में शांति की अपील

गाजा में इस्राएली हवाई हमले में गुरुवार को 25 लोगों की मौत हो गई. एक प्रमुख अखबार का कहना है कि इस्राएल के प्रधानमंत्री के एजेंडे में गाजा में सत्तारूढ़ फलीस्तीनी संगठन हमास के साथ युद्धविराम शामिल नहीं है.

फलीस्तीनी स्वास्थकर्मियों के मुताबिक हवाई हमलों में मरने वालों में 5 बच्चे भी शामिल हैं. दक्षिण के शहर खान यूनिस में सबसे ज्यादा खून खराबा हुआ है. गाजा से होने वाले रॉकेट हमलों को रोकने के लिए इस्राएल ने मंगलवार को ऑपरेशन प्रोटेक्टिव एज लॉन्च किया था, गुरुवार को मारे गए लोगों को मिलाकर मृतकों की संख्या 76 पहुंच गई है. आपातकालीन सेवा के प्रवक्ता अशरफ अल कुदरा ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया कि गाजा के शहर बेएत लहिया में एक हमले में पांच साल का बच्चा मारा गया.

अधिकतर मौतें खान यूनिस में तब हुई जब आधी रात के बाद एक कॉफी शॉप पर हमला हुआ. इस कॉफी शॉप में लोग अर्जेंटीना और नीदरलैंड्स के बीच सेमीफाइनल मुकाबला देख रहे थे. इस्राएल के इस हमले में आठ लोग मारे गए हैं और 15 जख्मी हुए हैं. कुदरा का कहना है कि एक घंटे बाद इस्राएली विमानों ने शहर के दो मकानों पर हमला किया जिसमें चार महिलाएं और चार बच्चे मारे गए. देर सुबह एक और हमले में एक शख्स की मौत हो गई.

एक रात में तीन सौ हमले

इस्राएली सेना का कहना है कि उसने एक ही रात में 300 से अधिक लक्ष्यों पर हमला किया. ऑपरेशन एज के लॉन्च होने के 48 घंटे के अंदर सेना ने 750 लक्ष्यों पर निशाना साधा है. मंगलवार को इस्राएल पर निशाना लगाते हुए गाजा से 117 रॉकेट दागे गए थे, 29 रॉकेटों को आयरन डोम एंटी मिसाइल सिस्टम ने रोक लिया. वहीं बुधवार को इस्राएल पर हमला करते हुए 90 रॉकेट छोड़े गए थे जिनमें 24 को रोक लिया गया. गुरुवार को 15 रॉकेट छोड़े गए जिनमें 7 को डोम ने नष्ट कर दिया. हमास के हमले में अब तक किसी भी इस्राएली की मौत नहीं हुई है.

शांति की मांग

संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद की आपात बैठक में संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने कहा कि यह अत्यंत महत्वपूर्ण है कि फलस्तीन और इस्राएल के युद्ध को टाला जाए. साथ ही उन्होंने कहा कि वे अपील करेंगे कि दोनों नेताओं को शासन कला का प्रदर्शन करते हुए संघर्ष विराम पर सहमत हो जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि इस्राएल की जमीनी कार्रवाई के खतरे को सिर्फ तभी रोका जा सकता है जब हमास इस्राएल में रॉकेट और मोर्टार दागना बंद कर दें.

बान ने एक बार फिर हमास की आलोचना की है, जिसका गाजा पर नियंत्रण है और वह इस्लामिक जिहाद के नाम पर रॉकेट हमले कर रहा है. लेकिन इस्राएल को स्पष्ट संदेश देते हुए मून ने कहा, "बल का अत्यधिक उपयोग और नागरिक जीवन को खतरे में डालना भी असहनीय है." महासचिव ने दुनिया से अपील कि है वह प्रयासों में तेजी लाए जिससे संघर्ष तुरंत खत्म हो सके.

एए/एमजे (एपी, एएफपी)

संबंधित सामग्री