1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

गवाही से पिस्टोरियस परेशान

दक्षिण अफ्रीका के मशहूर ब्लेड रनर ऑस्कर पिस्टोरियस के खिलाफ अदालती सुनवाई शुरू हुई. पिस्टोरियस पर अपनी गर्लफ्रेंड की गोली मारकर हत्या करने का आरोप है. पहले दिन दर्ज की गई पड़ोसी की गवाही पिस्टोरियस के खिलाफ गई.

प्रिटोरिया की अदालत में सोमवार को काले रंग के सूट में 27 साल के पिस्टोरियस जब दाखिल हुए तो वो नर्वस दिखाई पड़ रहे थे. वारदात के बाद पहली बार उनका सामना अपनी गर्लफ्रेंड की मां से हुआ. ब्लेड रनर पर आरोप है कि उन्होंने पिछले साल 14 फरवरी को अपनी गर्लफ्रेंड रीवा स्टीनकैंप की हत्या की. पिस्टोरियस की दलील है कि उन्होंने चोर समझकर गोलियां चलाई जो उनकी गर्लफ्रेंड को लगीं.

साल भर बाद शुरू हो रही सुनवाई के दौरान कोर्ट में पिस्टोरियस के भाई, बहन और अन्य रिश्तेदार भी आए. उनकी रीवा स्टीनकैंप की मां से कोई बातचीत नहीं हुई. रीवा के परिवार का आरोप है कि पिस्टोरियस ने उनकी बेटी की हत्या की और फिर मामले को अलग रंग देने की कोशिश की. सुनवाई से पहले ब्रिटेन के अखबार डेली मेल से बात करते हुए रीवा की मां ने कहा, "मैं ऑस्कर को देखना चाहती हूं. मैं सीधे उसकी आंखों में देखना चाहती हूं और उस सच को जानना चाहती हूं जो उसने मेरी बेटी के साथ किया."

सुनवाई शुरू होते ही पिस्टोरियस से अदालत से कहा कि उन्होंने जानबूझकर हत्या नहीं की. हालांकि इसके बाद अभियोजन पक्ष ने उन्हीं के पड़ोसी को गवाही के लिए बुलाया. पड़ोसी से अदालत को बताया कि हत्याकांड के दिन फायरिंग से पहले उन्होंने पिस्टोरियस के घर से महिला के चिल्लाने की आवाजें सुनीं. महिला चीख रही थी, फिर वो रोयी और उसके बाद गोली चली. पिस्टोरियस अब तक इससे इनकार करते आए हैं.

Südafrika Sport Oscar Pistorius mit Freundlin Reeva Steenkamp

रीवा स्टीनकैंप के साथ पिस्टोरियस

पिस्टोरियस की मुश्किलें

करीब साल भर तक जमानत पर रहने वाले पिस्टोरियस के लिए आगे का समय चुनौती भरा है. करीब तीन हफ्ते तक अभियोजन और बचाव पक्ष की दलीलें सुनने के बाद अदालत पिस्टोरियस पर आरोप तय करेगी. अभियोजन पक्ष यह साबित करने की कोशिश करेगा कि वारदात से पहले पिस्टोरियस और रीवा के बीच तीखा झगड़ा हुआ. अभियोजन पक्ष गवाही के लिए पड़ोसियों को भी पेश करेगा. ऐसी रिपोर्टें पहले ही आ चुकी हैं कि 14 फरवरी 2014 की सुबह पिस्टोरियस के पड़ोसियों ने उन्हें और रीवा को एक दूसरे पर चीखते हुए सुना.

अभियोजन पक्ष पिस्टोरियस के गुस्सैल और मूडी स्वभाव को भी साबित करने की कोशिश करेगा. दमकलकर्मी भी यह बात पहले ही कह चुके हैं कि पिस्टोरियस दो बार पहले भी सार्वजनिक जगहों पर गुस्से में फायरिंग कर चुके हैं. लंदन ओलंपिक में कृत्रिम पैरों से सहारे हिस्सा लेने वाले एथलीट पर गैरकानूनी ढंग से गोलियां रखने का आरोप भी है. पुलिस अमेरिका जाकर एफबीआई की मदद से पिस्टोरियस के आईफोन का डाटा ले चुकी है. अभियोजन पक्ष के पास 107 गवाह हैं. इनमें कुछ पिस्टोरियस की पूर्व प्रेमिकाएं हैं.

वहीं बचाव पक्ष की दलील होगी कि वारदात से पहले उनके मुवक्किल और रीवा के बीच कोई झगड़ा नहीं हुआ. बचाव पक्ष ये साबित करने की कोशिश करेगा कि पिस्टोरियस वारदात से पहले सो रहे थे. अचानक उन्हें आवाजें सुनाई दीं, उन्हें लगा कि घर में घुसपैठिया घुसा है. इसी संदेह में उन्होंने फायरिंग की.

ओएसजे/एमजे (डीपीए)