1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

गर्म होती दुनिया का खतरा

ग्लेशियर तेजी से ​पिघल रहे हैं और हिमालय की स्नोलाइन लगातार पीछे खिसकती जा रही है, समुद्र का जल स्तर बढ़ता जा रहा है. ग्लोबल वॉर्मिंग का बढ़ता प्रभाव कभी सूखे तो कभी बाढ़ का संकट पैदा कर रहा है. देखें यह वीडियो.

वीडियो देखें 02:12

जलवायु परिवर्तन के खतरे

गर्मियों की शुरुआत में ही भारत के कई इलाकों को इस बार सूखे ने अपनी चपेट में ले लिया है. इसी तरह कभी बेतहाशा बारिश बाढ़ मुसीबत बन जा रही है. ग्लोबल वॉर्मिंग का साफ साफ दिखाई दे रहा यह असर भविष्य में और भयानक होता दिख रहा है. खासकर आर्थिक रूप से अक्षम देश इस संकट की चपेट में ज्यादा आएंगे लेकिन समृद्ध देश भी इससे अछूते नहीं रहेंगे.

आशंका है कि आने वाले समय में इसके चलते बेहतर जिंदगी, भोजन और पानी की तलाश में लोग एक इलाके से दूसरे इलाकों की तरफ भागेंगे. गृहयुद्धों और अशांति से पैदा हुए मौजूदा यूरोप के शरणार्थी संकट की तरह ही आने वाले समय में एक बड़े शरणार्थी संकट की वजह जलवायु परिवर्तन भी बन सकता है.

DW.COM

इससे जुड़े ऑडियो, वीडियो

संबंधित सामग्री