1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

गर्मी से झुलसा भारत, पारा पचास के पास

भारत में मॉनसून के इंतजार के लिए सब्र मुश्किल होता दिख रहा है. कई हिस्सों में तापमान 50 डिग्री के आस पास पहुंच गया है. भीषण गर्मी से पूरे देश में सैकड़ों लोगों की मौत की खबर है.

default

कैसे दूर हो गर्मी..

राजस्थान के श्री गंगानगर ने गर्मी के रिकॉर्ड तोड़ दिए. वहां तापमान 49.3 डिग्री सेंटीग्रेट तक पहुंच गया, जबकि पड़ोसी राज्यों हरियाणा और पंजाब में भी बेहिसाब गर्मी पड़ रही है. भारत के स्वास्थ्य मंत्रालय ने गर्मी और लू की वजह से देश भर में मरने वाले लोगों का आंकड़ा नहीं जारी किया है. लेकिन भारतीय मीडिया के मुताबिक इस साल लगभग 150 लोग लू और जबरदस्त गर्मी की बलि चढ़ गए हैं.

आसमान से बरस रही आग के समान तेज धूप से बचने के लिए लोगों ने घरों में रहने का ही फैसला किया है. लेकिन लगातार बिजली की कटौती से उनका जीना मुहाल हो गया है. पीने के पानी की सप्लाई कम हो गई है और घरों के एयर कंडीशन और पंखों के लिए बिजली नहीं मिल पा रही है.

भारत के मौसम विभाग के प्रवक्ता बीपी यादव ने बताया, "आने वाले तीन से चार दिनों में गर्मी से निजात मिल सकती है. हमें लगता है कि बारिश नहीं होने की वजह से गर्मी बढ़ गई है."

उत्तर भारत में इस हफ्ते के आखिर तक मॉनसून आने की संभावना जताई जा रही थी. लेकिन पिछले छह दिनों से यह ज्यों का त्यों बना हुआ है. ऐसे में पूर्वानुमान गलत भी साबित हो सकता है. भारत में 60 फीसदी खेती के लिए बारिश के पानी का ही सहारा होता है. जानकारों का मानना है कि पिछले हफ्ते आए लैला तूफान की वजह से भी मानसून आने में देरी हो रही हो सकती है.

उम्मीद की जा रही है कि इस साल भारत में सामान्य बारिश होगी. पिछले साल 1901 के बाद से सबसे ज्यादा गर्मी पड़ी थी और पारा ने कई जगहों पर रिकॉर्ड तोड़ दिया था. लंदन के मौसम विभाग का कहना है कि इस बात की बेहद संभावना है कि साल 2010 पूरे विश्व में सबसे गर्म साल साबित हो. अमेरिका के राष्ट्रीय जलवायु आंकड़ा केंद्र के मुताबिक पिछले 60 साल के दौरान भारत में इस साल का अप्रैल सबसे ज्यादा गर्म रहा.

भारत के पूर्वी राज्य उड़ीसा में गर्मी की वजह से आधिकारिक तौर पर 34 लोगों की मौत हो चुकी है. डॉक्टरों का कहना है कि इस साल लू की वजह से बीमार होने वाले लोगों की संख्या बढ़ी है. उड़ीसा में लगातार बिजली कटौती को लेकर लोगों ने प्रदर्शन भी किए हैं. भारतीय मीडिया के मुताबिक गुजरात में लगभग 100 लोगों ने गर्मी की वजह से दम तोड़ दिया है. हालांकि सरकार ने इसके आंकड़े जारी नहीं किए हैं.

रिपोर्टः रॉयटर्स/ए जमाल

संपादनः ए कुमार

संबंधित सामग्री