1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

गर्भावस्था में खाएं बादाम और मेवे

किसी को दूध से एलर्जी होती है, तो किसी को मेवे और बादाम से. कहीं ये एलर्जी बच्चों को भी ना हो जाए, इस डर से कई बार महिलाएं इनसे दूर भागने लगती हैं. पर अब ऐसा करने की कोई जरूरत नहीं है.

एक नए शोध से पता चला है कि जो महिलाएं गर्भावस्था में मूंगफली, बादाम और मेवे खाती हैं उनके बच्चों को इससे होने वाली एलर्जी का खतरा कम होता है. अमेरिका में 8,200 बच्चों पर यह शोध किया गया. शोध में शामिल 140 बच्चों में मूंगफली, बादाम और मेवे आदि चीजों से एलर्जी पाई गई.

इसे समझने के लिए शोधकर्ताओं ने इन बच्चों की मां आहार की जांच की. उन्होंने इस बात पर ध्यान दिया कि इन महिलाओं ने गर्भावस्था के दौरान और फौरन बाद क्या क्या खाया. नतीजों में देखा गया कि जिन महिलाओं ने बादाम, काजू, अखरोट का सेवन किया उनके बच्चे में इन चीजों से एलर्जी होने की संभावना बेहद कम है. हालांकि उन बच्चों को बादाम और मेवे से एलर्जी होने की ज्यादा संभावना है जिनकी मां ने गर्भावस्था के दौरान इनसे परहेज किया.

यह रिपोर्ट अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन की बाल रोग की पत्रिका में छपी है. बॉस्टन में बच्चों के अस्पताल के एलर्जी और इम्यूनोलॉजी विभाग के वरिष्ठ लेखक माइकल यंग के मुताबिक, "मान लिया जाए कि मां को मूंगफली, बादाम और मेवे से एलर्जी नहीं है. तो इसमें कोई कारण नहीं है कि गर्भवती महिलाएं इसका सेवन न करें.''

दरअसल डॉक्टर अक्सर गर्भवती महिलाओं को बादाम और मेवे से परहेज करने की सलाह देते हैं. उनकी चिंता होती थी कि पैदा होने वाले बच्चे को बादाम और मेवे से एलर्जी हो सकती है. महिलाएं इस बात को समझे बिना इन चीजों को खाने की उस सूची में शामिल कर लेती हैं जिनसे गर्भावस्था में दूर रहना चाहिए, जैसे पपीता इत्यादि.

हालांकि भारत और आसपास के देशों में बच्चों में मूंगफली या मेवे के कारण बीमार होने के मामले कम ही देखने को मिलते हैं, लेकिन अमेरिका में हाल के सालों में इनमें तिगुणा बढ़ोतरी हुई है. अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन की पत्रिका में छपी रिपोर्ट के मुताबिक 1997 में एलर्जी वाले बच्चों की तादाद 0.40 फीसदी थी, जो बढ़कर 2010 में 1.40 फीसदी हो गई. शरीर में एलर्जी तब पैदा होती है जब वह किसी भी चीज को एक हानिकारक हमलावर के रूप में लेता है.

एलर्जी के लक्षण गंभीर और घातक भी हो सकते हैं, जैसे चकत्ते, सूजन, सांस लेने में तकलीफ और ब्ल्ड प्रेशर में तेजी से गिरावट. लेकिन 2008 में सिफारिशें बदल दी गईं. अमेरिकी बाल रोग अकादमी ने फैसला किया है कि महिलाओं को मूंगफली, बादाम और मेवे से परहेज करने की सलाह के लिए कोई पर्याप्त सबूत नहीं है.

एए/आईबी (एएफपी)

DW.COM