1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

गधी और जेबरा का प्यार-जॉन्की

इटली के रोमांटिक शहर फ्लोरेंस में एक गधे और जेबरा के समागम के बाद पैदा हुए अनोखे जानवर को देखने के लिए लोगों की भीड़ जुट रही है.

इस प्यार भरी कहानी में दो किरदार हैं, जेबरा जिसका नाम मार्टिन है और गिएडा जो कि एक गधी है. इन दोनों की मोहब्बत के बाद एक विचित्र जानवर पैदा हुआ है. तीन महीने का इप्पो इस समय लोगों के बीच कौतूहल का कारण बना हुआ है.

जेबरा और गधी से पैदा हुए इस जॉन्की का नाम इप्पो है और वो रातों-रात स्टार बन गया है. बच्चों की दुनिया के फेवरेट डिज्नी और एक साफ्ट टॉय बनाने वाली कंपनी ने तो इसकी तस्वीरों के अधिकार खरीदने का प्रस्ताव भी दे दिया है. फार्म हाउस चलाने वाले की बेटी सेरेना एजीलेट्टी के मुताबिक, ''एक जेबरा और गधी का संगम होना अपने आप में एक अजूबा ही है और ऐसा होना एक खास घटना है.'' इस फार्म हाऊस में ऊंट, लामा और वियतनामी सूअर के अलावा 170 जानवर रहते हैं, जिन्हें सेरेना और उनके परिवार के लोग सर्कस या ऐसी जगहों से छुड़ा कर लाए हैं, जहां उन पर अत्याचार किया जाता है.

Der Zesel Ippo im florentiner Zoo

जॉन्की अभी तीन महीने का है

शरारती नन्हा जॉन्की

उन्होंने बताया कि मार्टिन नाम का यह जेबरा एक रात उनके फार्म हाऊस की बाड़ को लांघकर अंदर घुस आया. अंदर आने के बाद उसे एक गधी से प्यार हो गया जो कि एक विलुप्त होती नस्ल से है. संसर्ग के बाद मार्टिन वहां से गायब हो गया. उस रात की घटना के बारे में किसी को कुछ पता नहीं चला. लेकिन 12 महीने बाद ही सब को इस घटना का पता चला जब गधी ने जॉन्की को जन्म दिया. मार्टिन नाम के जेबरा को एक चिड़ियाघर से छुड़ाया गया था. जहां उसके साथ वहां बुरा बर्ताव किया जाता था. एजीलेट्टी बताती हैं, ''हम जॉन्की के जन्म के समय मौजूद थे. पहले काला खुर बाहर आया और उसके बाद धारियों वाले पैर. हम हैरान थे.''

एजीलेट्टी के मुताबिक इप्पो का स्वास्थ्य अच्छा है और वो थोड़ा शरारती है. लेकिन बच्चों के साथ उसका स्वभाव बहुत मीठा है. फिलहाल तो इप्पो दूध पीता है लेकिन कभी कभी गाजर भी खाता है. इस अनोखे जानवर की वजह से इलाके के लोग फार्म हाउस आते हैं और इप्पो की तस्वीर अपने स्मार्टफोन में कैद करते हैं. 67 साल की पैट्रिसिया बताती हैं, "हम इस जानवर को देखने के लिए बहुत उत्सुक थे. यह बच्चों के लिए बहुत ही अच्छा है.'' एक और स्थानीय निवासी फैब्रिजियो इस जानवर को देख ताज्जुब हो गए. उनका कहना है, "मैंने ऐसा पहली बार देखा. यह प्राकृतिक नहीं है, लेकिन प्रकृति ने इसे संभव बना दिया.'' इप्पो को देखने से पता चलता है कि वो जेबरा और गधी का मिश्रण है. जिसका चेहरा एक गधे की तरह है और पांव जेबरा की तरह. हालांकि पहले के उदाहरण से ऐसा महसूस होता है कि इप्पो बड़ा होने पर चीन, जापान और अमेरिका में पैदा हुए जॉन्की की ही तरह ही होगा.

एए/एएम (एएफपी)

DW.COM