1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

खड़े रह कर करें दफ्तर में काम

ऑफिस में छह से आठ घंटे तक कंप्यूटर के आगे बैठना हानिकारक हो सकता है. ना केवल यह पीठ और टांगों की हड्डियों के लिए बुरा है, बल्कि इससे आपकी उम्र भी घट सकती है.

एक अमेरिकी शोध के अनुसार जो लोग ज्यादा देर कुर्सी पर बैठ कर काम करते हैं, उन्हें मधुमेह, हृदय रोग और मोटापे का सामना करना पड़ता है. इससे बचने के लिए अमेरिका में लोगों को दफ्तरों में खड़े हो कर काम करने की सलाह दी जा रही है. 2012 के एक शोध के अनुसार अमेरिका में 50 से 70 फीसदी लोग छह से अधिक घंटे बैठे रहते हैं. सेन डिएगो की फिजियोलॉजिस्ट जेसिका मैथ्यू का कहना है कि यह धूम्रपान जितना ही नुकसानदेह हो सकता है. उन्होंने बताया कि इससे शरीर की रोग प्रतिरक्षी क्षमता भी कम हो जाती है.

इससे बचनेके लिए अब अमेरिकन काउंसिल ऑन एक्सरसाइज (एसीई) लोगों को "स्टैंडिंग वर्कस्टेशन" मुहैया करा रहा है. ये ऐसे टेबल हैं जिनके सामने आप खड़े हो कर काम कर सकते हैं और जब थक जाएं तो टेबल दोबारा नीचे कर के बैठ सकते हैं. कुछ मेज ऐसी भी हैं जो ट्रेडमिल से जुडी हुई हैं, यानि काम करते करते लोग कसरत भी कर सकते हैं. एसीई के चीफ साइंस ऑफिसर डॉक्टर सेड्रिक एक्स ब्रायंट का इस बारे में कहना है, "बहुत से लोगों ने हमें बताया है कि इससे वे ज्यादा चुस्त महसूस करते हैं. यह आपके दिमाग की क्षमता भी बढ़ाता है."

कैलिफोर्निया के डिजायनर जो नैफजिगर ने इन्हें बनाया है और अमेरिका के अलावा ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी और जापान में भी इनकी मांग है. 169 डॉलर की इस मेज को लोग किफायती भी बता रहे हैं. डॉक्टरों का कहना है कि यदि आप आठ घंटे खड़े हो कर काम करते हैं, तो इससे 163 कैलोरी कम होती हैं और आप फुर्तीला महसूस करते हैं.

आईबी/एमजे (रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री