1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

खुद की बेदाग सफाई करेगा पेन्ट

ब्रिटेन और चीन के वैज्ञानिकों ने अपनी सफाई खुद करने वाला एक पेन्ट तैयार किया है. अगर इसे कपड़ों पर लगाया जाए तो कपड़े गंदे ही नहीं होंगे.

सालों तक चमचमाती दीवारें या बेदाग सफाई, ये सुनने में बड़ा अच्छा लगता है लेकिन ऐसा करने के लिए पैसा, मेहनत और वक्त तीनों चाहिए. लेकिन अब लंदन यूनिवर्सिटी कॉलेज के वैज्ञानिकों ने एक ऐसा पेन्ट तैयार किया है जो अपनी सफाई खुद करता है, और इसे हर चीज पर लगाया जा सकता है.

विज्ञान पत्रिका साइंस में छपे लेख के मुताबिक इस पेन्ट को कपड़ों, कागज, कांच और स्टील पर भी चढ़ाया जा सकता है. जिस चीज पर यह पेन्ट लगाया जाएगा उस पर पानी और तेल के जिद्दी दाग भी नहीं टिकेंगे.

क्या है राज

यह पेन्ट टाइटेनियम डायॉक्साइड के नैनोपार्टिकल्स से बना है. इसकी परत बहुत ही जबर्दस्त ढंग से वॉटरप्रूफ का काम करती है. दिलचस्प बात है कि यह रगड़ खाने के बाद भी वॉटर और ऑयलप्रूफ बनी रहती है.

यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन की रसायन शास्त्र की प्रोफेसर क्लेयर कारमाल्ट इस रिसर्च का हिस्सा है. कारमाल्ट कहती हैं, "खुद की सफाई करने वाली सतह बनाने में सबसे बड़ी चुनौती यह थी कि पेन्ट को इतना कड़ा बनाया जाए कि वो रोजमर्रा होने वाले नुकसान को सह सके. मैकेनिकली परत कमजोर है और इसे आसानी से रगड़ा जा सकता है. लेकिन अगर इसे अलग गोंद के साथ मिलाया जाए तो खुद की सफाई करने वाली सतह बनाई जा सकती है."

अलग अलग गोंद

वैज्ञानिकों के मुताबिक फिलहाल अलग अलग सतहों के हिसाब से उपयुक्त गोंद खोजा जा रहा है. कांच और स्टील के लिए स्प्रे-गन का सहारा लिया जा रहा है. सूती और ऊन के लिए डिप कोटिंग बेहतर है. कागज पर इसे चढ़ाने के लिए इंजेक्शन का सहारा लिया जा रहा है.

यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के रसायन विज्ञान विभाग के याओ लू इसका राज समझाते हैं, "वॉटरप्रूफ होने से मैटीरियल अपनी सफाई खुद कर सकता है. वॉटरप्रूफ सतह पर पानी एक बूंद में बदल जाता है और सतह पर लुढ़कता हुआ एक छोटे वैक्यूम क्लीनर की तरह गंदगी, वायरस और बैक्टीरिया की सफाई करता जाता है."

प्रयोग के दौरान वैज्ञानिकों ने पेन्ट को चाकू से खुरचा भी, लेकिन इसके बावजूद सतह वॉटरप्रूफ बनी रही.

ओएसजे/आरआर (रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री