1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

'खिलाड़ियों को चाहिए पैसा, लड़की और खाना'

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों के साथ मिलकर मैच फिक्सिंग में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार किए गए सट्टेबाज मजहर मजीद ने पाक खिलाड़ियों के बारे में सनसनीखेज खुलासे किए हैं.

default

इंग्लैंड के अखबार न्यूज ऑफ द वर्ल्ड ने मजीद के हवाले से लिखा है कि ज्यादातर पाकिस्तानी खिलाड़ियों को बस पैसा, लड़की और खाना चाहिए. अखबार ने एक स्टिंग ऑपरेशन में एक वीडियो फिल्म बनाई है, जिसमें मजीद पाकिस्तानी खिलाड़ियों के मैच फिक्सिंग में शामिल होने की बात कहता नजर आ रहा है. इसी वीडियो में उसने पाक खिलाड़ियों के बारे में काफी बातें कही हैं. अखबार ने लिखा है कि वीडियो में मजीद कहता है, "आप पाएंगे कि ऐसे बहुत कम खिलाड़ी हैं जो ईमानदार हैं और क्रिकेट के लिए अपने प्यार की वजह से यहां हैं. और यकीन मानिए ऐसे बहुत ज्यादा नहीं हैं. उनमें से ज्यादातर तो बस पैसा, औरतें और खाना चाहते हैं."

मजीद कहता है कि खिलाड़ियों को जितना पैसा क्रिकेट से मिलता है, वह एक मजाक है. वह कहता है, "मेरी पृष्ठभूमि फुटबॉल की है और मैं जानता हूं दोनों खेलों में क्या फर्क है. बहुत बड़ा फर्क है."

मजीद ने दावा किया है कि खिलाड़ियों की धोखाधड़ी बस मैच फिक्सिंग तक ही सीमित नहीं है, बल्कि गेंद से छेड़छाड़ तो उनके लिए आम बात है. वह कहता है, "मैं खिलाड़ियों को ड्रिंक्स देने मैदान पर जाता था. जब भी हमें विकेट नहीं मिलती, तो मैं अपने हाथ पर वैसलीन लगा कर जाता और उनसे हाथ मिला लेता. वे इसे गेंद के एक सिरे पर लगा लेते और फिर बॉल अचानक स्विंग करने लगती."

वीडियो में मजीद ने यह भी खुलासा किया है कि वह चाहता था कि सलमान बट ज्यादा से ज्यादा देर तक कप्तान बने रहें. उसने कहा, "मैं रात को या उस सुबह ही सूचना देता हूं कि चौथे दिन के खेल के बाद क्या होने जा रहा है. लेकिन अब हम अगले दो मैचों में नतीजों के साथ कुछ नहीं करेंगे क्योंकि हम चाहते हैं कि सलमान ज्यादा से ज्यादा देर तक कप्तान बना रहे."

रिपोर्टः पीटीआई/वी कुमार

संपादनः आभा एम

DW.COM