1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

खाना बर्बादी रोकने की ऑनलाइन अपील

अमेरिका में कैलिफोर्निया में रहने वाले एक किसान ने जब देखा कि टनों खाने की बिक्री नहीं हुई है, तो उसने सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हुए खाने की बर्बादी को रोकने की मुहिम शुरू की.

पश्चिमी सोनोमा काउंटी में यूकेलिप्टस के पेड़, मवेशी और सब्जियों के लंबे चौड़े खेत हैं. लगभग एक दशक पहले फोर्ड वैली के पास 17 हेक्टेयर जमीन में ब्लूमफील्ड ऑर्गेनिक्स ने अपना उत्पादन शुरू किया. उस वक्त ऑर्गेनिक उत्पादों की वैसी मांग नहीं थी. लेकिन मालिक लगातार अपने उत्पाद बाजार में भेजते थे. कई बार फसल बिकती ही नहीं थी, खेतों में सड़ जाती थी. फार्म मालिक के दामाद निक पापाडोपुलस का कहना है, "यह स्वीकार नहीं किया जा सकता कि खाने को सीधा बर्बाद कर दिया जाए."

विश्व के कुछ महत्वपूर्ण कंपनियों में काम करने के बाद 38 साल के पापाडोपुलस को फार्म का महानिदेशक बनाया गया. उनका कहना है कि शुरू में उन्होंने जो कुछ देखा, उससे उन्हें सदमा पहुंचा. फलों के कई बक्से और सब्जियां सीधे फेंक दी जाती थी या उन्हें मुर्गियों के दाने के रूप में इस्तेमाल कर लिया जाता था, "इससे मुझे जबरदस्त झटका लगा. पहली बार मैंने महसूस किया कि हमारे खेतों में लगातार ऐसा होता रहता है."

Dürre in Kalifornien

सूखे से लड़ते कैलीफोर्निया के किसान

कैसे हुई शुरुआत

पापाडोपुलस ने एक तरीका निकाला. उन्होंने तय किया कि ग्राहकों को यह खाना बांट दिया जाएगा और इसके लिए इंटरनेट का इस्तेमाल किया जाएगा, "मैंने सोशल मीडिया पर कई प्रयोग करने का फैसला किया. मैंने अपनी ऑनलाइन कम्युनिटी को एक नोट लिखाः हमारे पास यह शानदार बेचने लायक खाना है. यह हमारे लिए नुकसान है और आपके, कम्युनिटी के लिए भी नुकसान है."

कुछ ही घंटों बाद लोगों ने ऑनलाइन जवाब दिया. जिस खाने को फेंका जाना था, वह किसी ने ले लिया. इससे फार्म को भी कुछ पैसे मिल गए.

इसके बाद यह तरीका चल निकला. पापाडोपुलस का कहना है कि निजी संदेश भी लोगों को आकर्षित करते हैं, "क्रॉपमॉब्सटर पर कोई भी फार्म, कोई भी किसान या कोई दूसरा आदमी भी पोस्ट कर सकता है."

फैल रहा है आइडिया

पिछले महीने एक पड़ोसी किसान डॉन रोजेनबर्ग के सामने भी ऐसी ही समस्या आ गई. उनके पास कई पेटी खुमानी जमा हो गए, जिन्हें कहीं नहीं भेजा जाना था. उन्होंने क्रॉपमॉब्सटर पर पोस्ट किया और लोगों से अपील की कि इसे खराब होने से पहले वे इसे ले लें. उन्हें शुरू में लगा कि इसका कोई नतीजा नहीं निकलेगा. लेकिन "मेरे पास आने वाला हर शख्स एक बॉक्स खुमानी लेकर गया. सिर्फ एक शख्स खाली हाथ गया."

उधर, ब्लूमफील्ड ऑर्गेनिक्स के मालिक माइकल कॉलिन्स ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का स्वागत किया है. इससे उनके पैसे भी बचे हैं. उनका कहना है कि अब ज्यादा से ज्यादा किसान इस प्लेटफॉर्म को इस्तेमाल कर रहे हैं, "यह बढ़ रहा है. यह बहुत आकर्षक होता जा रहा है. हो सकता है कि पूरी दुनिया में यह फैल जाए."

USA Landwirtschaft Bloomfield Organics CropMobster

ब्लूमफील्ड ऑर्गेनिक्स का फॉर्म

वैश्विक समस्या

हो सकता है कि कॉलिन्स सही बोल रहे हों. खाने की बर्बादी पूरी दुनिया में होती है. अमेरिकी पर्यावरण संरक्षण एजेंसी ने 2010 में रिपोर्ट दी थी कि एक चौथाई खतरनाक ग्रीनहाउस गैस का उत्सर्जन बर्बाद होकर सड़ रहे खाने की वजह से होती है. ये खाना आम तौर पर खेतों में पड़ा रहता है.

पापाडोपुलस कहते हैं, "विश्व में जितने खाने का उत्पादन होता है, उसका एक तिहाई हिस्सा लोगों तक नहीं पहुंचता है. आप देखें कि एक अरब लोगों को खाना नहीं मिलता और दूसरी तरफ इतनी बर्बादी होती है क्योंकि दोनों सिरों को मिलाया नहीं जा सका है. यह बड़ा संकट भी है और बड़ा मौका भी."

फिलहाल क्रॉपमॉब्सटर सिर्फ सैन फ्रांसिस्को के आस पास ही सक्रिय है और यह दान पर चलता है. लेकिन अब इसके ऑपरेटर चाहते हैं कि दायरा बढ़ाया जाए. इसकी मदद से पांच लाख किलो खाना बांटा गया है, जिसकी कीमत 10 लाख डॉलर के आस पास है.

रिपोर्टः जैकब रेसनेक/एजेए

संपादनः ओंकार सिंह जनौटी

DW.COM

संबंधित सामग्री