1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

खट्टे होंगे सुआरेस के दांत

उरुग्वे के स्ट्राइकर लुइस सुआरेस रातों रात फुटबॉल के बदतमीज विलेन बन गए हैं. उन्होंने तीसरी बार विपक्षी टीम के खिलाड़ी को दांत से काटा और इस बार कड़े दंड से उनके दांत खट्टे करने की तैयारी हो रही है.

इस बात की संभावना प्रबल होती जा रही है कि उरुग्वे को बाकी का वर्ल्ड कप स्टार स्ट्राइकर लुइस सुआरेस के बिना खेलना पड़ेगा. सुआरेस पर आरोप है कि उन्होंने इटली के डिफेंडर जॉर्जियो केलीनी को दांत से काटा. केलीनी के कंधे पर सुआरेस के दांतों के निशान दिखाई भी पड़े.

फीफा ने एक बयान जारी कर कहा है कि, "फीफा इस बात की पुष्टि करती है कि उरुग्वे के खिलाड़ी लुइस सुआरेस के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू हो गई है." फीफा ने सुआरेस और उरुग्वे को बुधवार शाम तक सफाई देने का समय दिया है. सुआरेस के खिलाफ दो धाराओं के तहत जांच चल रही है. पहला गलती को छुपाना और दूसरा आक्रामक व्यवहार.

27 साल के सुआरेस मौजूदा वक्त के बेहतरीन स्ट्राइकरों में शुमार हैं, लेकिन वो मैदान पर गुस्सा उतारने के लिए बदनाम रहते हैं. मंगलवार को इटली के खिलाफ 79वें मिनट में सुआरेस ने जॉर्जियो केलीनी के बाएं कंधे पर दांत गड़ा दिए. इसके बाद सुआरेस मैदान पर गिर पड़े और अपने दांत पकड़ते हुए फड़फड़ाने लगे. वो ऐसा दिखाने लगे जैसे केलीनी ने उनके मुंह पर कोहनी मारी हो. रेफरी के दूर होने के वजह से सुआरेस बच गए. उन्हें कोई कार्ड नहीं दिखाया गया.

Fifa WM Italien Uruguay Chiellini Bissspuren Suarez

घाव दिखाते चेलिनी

किन टीवी रिप्ले और तस्वीरों से पता चल रहा है कि सुआरेस दांत काटने के बाद चोट का नाटक कर रहे थे. मैच के बाद सुआरेस ने उरुग्वे के एक टीवी चैनल से कहा, "ऐसी घटनाएं मैदान पर होती रहती हैं, आपको उन्हें तिल का ताड़ नहीं बनाना चाहिए."

सुआरेस पहले भी क्लब फुटबॉल में भी विपक्षी खिलाड़ियों को दांत से काट चुके हैं. 2010 में हॉलैंड के क्लब अयाक्स के कप्तान रहते हुए सुआरेस ने ओटमन बाकाल के कंधे पर दांत गड़ा दिए. तब उन पर सात मैचों का प्रतिबंध लगा. अप्रैल 2013 में लीवरपूल के लिए खेलते हुए सुआरेस ने चेल्सी के ब्रानीस्लाव इवानोविच पर दांत गड़ा दिए. इसके लिए उन पर 10 मैचों की पांबदी लगी.

इन घटनाओं के बाद भी सुआरेस नहीं संभले. ताजा हरकत ने सबसे कड़ी सजा को न्योता दे दिया है. अगर उन पर प्रतिबंध लगा तो उरुग्वे की टीम का वर्ल्ड कप में ज्यादा देर टिक नहीं पाएगी.

ओएसजे/एएम (रॉयटर्स)