1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

क्वेटा के अस्पताल में धमाका, 70 मरे

पाकिस्तान के क्वेटा के अस्पताल हुए बम विस्फोट में अब तक 70 लोगों की मौत होने और करीब 100 लोगों के घायल होने की खबर है.

दक्षिण-पश्चिम पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी क्वेटा के एक अस्पताल में सोमवार सुबह एक बम धमाका हुआ. स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि सरकारी अस्पताल के इमरजेंसी वॉर्ड के बाहर 200 के करीब लोग इकट्ठा थे. ये लोग मृतक वकील बिलाल अनवर कासी के साथ आए थे. सुबह कोर्ट जाने के रास्ते में कासी की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद उन्हें इमरजेंसी वॉर्ड में लाया गया था. धमाका वॉर्ड के ही बाहर हुआ.

बम विस्फोट में अब तक कम से कम 70 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो गई है. इनके अलावा करीब 100 लोग घायल हैं. पाकिस्तानी तालिबान के एक धड़े जमात उल अहरार ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है. बम डिस्पोजल दस्ते के प्रमुख अब्दुल रज्जाक ने कहा है कि हमलावर ने आठ किलोग्राम विस्फोटक अपने शरीर में बांध रखा था. मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है.

पाकिस्तानी समाचार चैनलों पर बताया गया कि मृतकों में एक टीवी कैमरामैन भी शामिल था. इसके अलावा वकीलों और पत्रकारों समेत कई लोग कासी को साथ लेकर आए थे. बलूचिस्तान प्रांत के सरकारी प्रवक्ता ने बताया है कि इस बम धमाके की जांच की हो रही है.

बलूचिस्तान के गृह मंत्री सरफराज बुगती ने बताया कि अभी तक मिले साक्ष्य एक आत्मघाती हमले की ओर इशारा कर रहे हैं. अभी तक यही भी पता नहीं चला है कि कासी को किसने मारा और क्या इन दोनों हमलों के बीच कोई संबंध है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एक बयान जारी करके इस घटना में "कीमती इंसानी जिंदगियों के खोने पर गहरा दुख और पीड़ा" व्यक्त की है. क्वेटा और बलूचिस्तान प्रांत में काफी समय से जारी अलगाववादी उग्रवाद और सुन्नी-शिया विवाद से संबंधित हिंसा में काफी तेजी आई है. राजधानी क्वेटा में कई लोगों को निशाना बनाने की घटनाएं आम होती जा रही हैं.

संबंधित सामग्री