1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

क्राइम रिपोर्टरों की इज्जत बढ़ेगीः रानी मुखर्जी

बॉलीवुड एक्ट्रेस रानी मुखर्जी का कहना है कि उनकी नई फिल्म को देखने के बाद लोग क्राइम रिपोर्टर की इज्जत करेंगे. रानी मुखर्जी नो वन किल्ड जेसिका में क्राइम रिपोर्टर का किरदार निभा रही हैं, जिसमें उन्हें बहुत मजा आया.

default

मुंबई में रानी ने कहा, "जब भी हम टीवी पर क्राइम रिपोर्टरों को देखते हैं तो यह नहीं समझ पाते कि उनका काम कितना मुश्किल है. मुझे लगता है कि रोजमर्रा की जिंदगी में क्राइम रिपोर्टिंग बहुत जोखिम भरा काम है क्योंकि वे नहीं जानते कि उन्हें क्या काम सौप दिया जाए. वे लोग खतरनाक जगहों पर भी जाते हैं. खासकर लड़कियों के लिए तो यह और भी मुश्किल है."

नो वन किल्ड जेसिका मॉडल जेसिका लाल की हत्या पर आधारित है जिसे हरियाणा के राजनेता विनोद शर्मा के बेटे मनु शर्मा ने दिल्ली के एक नाइट क्लब में 1999 में गोली मारी. 32 वर्षीय रानी कहती हैं, "इस फिल्म में अपने किरदार के जरिए मुझे विश्वास है कि लोग क्राइम रिपोर्टरों के काम को सलाम करेंगे. यह बहुत ही आकर्षित करने वाली नौकरी है जहां सबसे पहली शर्त होती है कि आपको निडर और बहादुर होना चाहिए. मैं बहुत खुश हूं कि मैंने क्राइम रिपोर्टर का किरदार निभाया."

इस फिल्म को राजकुमार गुप्ता ने डायरेक्ट किया जिसमें विद्या बालन ने जेसिका की बहन सबरीना का किरदार निभाया है. सबरीना ने ही जेसिका को न्याय दिलाने की कानूनी लड़ाई लड़ी. रानी मुखर्जी कहती हैं, "इस फिल्म में काम करने की एक वजह यह भी रही कि मुझे पत्रकार का रोल दिया गया. यह पहला मौका है जब फिल्म में मीडिया को एक सशक्त भूमिका में दिखाया गया है." रानी मुखर्जी मानती हैं कि मीडिया ने विवादास्पद जेसिका लाल मामले में न्याय के लिए अहम भूमिका अदा की. वह कहती हैं, "इस केस के दौरान मीडिया बराबर लोगों को आगाह करता रहा. इसलिए लोगों में इतना रोष था. इसने देश की न्यायिक व्यवस्था को भी हिलाया."

रानी मुखर्जी कहती हैं कि ऐसे समय में जब लोगों को सिर्फ अपनी चिंता लगी रहती है, हर कोई ऐसी लड़की के लिए एकजुट खड़ा हो गया जिसे वे जानते भी नहीं थे. इससे पता चलता है कि इंसाफ की लड़ाई में भारत के सभी लोग एकजुट हैं.

अपने किरदार के बारे में रानी कहती हैं, "निर्देशक की ख्वाहिश थी कि मैं इस किरादर में कुछ अपनी बात भी जोड़ूं. इस केस से बहुत सारे रिपोर्टर जुड़े थे, लेकिन फिल्म में हम उन सभी को नहीं दिखा सकते. इसलिए मैं मीरा नाम के किरदार में उन सब का प्रतिनिधित्व कर रही हूं. यह कहना सही नहीं होगा कि किसी एक खास रिपोर्टर से मैं प्रेरित हूं." यह फिल्म 7 जनवरी को रिलीज हो रही है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः वी कुमार

DW.COM

WWW-Links