1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

क्यों समय पर तैयार नहीं हुआ ईडन गार्डन

क्रिकेट विश्व कप के दौरान ईडन गार्डन से मैच छिन जाने पर भारतीय क्रिकेटरों और क्रिकेट प्रेमियों ने दुख जताया है और कहा है ईडन को एक और मौका दिया जाना चाहिए. अधूरी तैयारी के आधार पर इडन गार्डन से आईसीसी ने मैच छीन लिया.

default

वक्त से नहीं हुआ तैयार

ईडन गार्डन स्टेडियम में जरूरी तैयारियां समय पर पूरी नहीं हो पाईं है. इस कारण से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद आईसीसी ने यह आयोजन स्थल बदल दिया है. यहां 27 फरवरी को भारत और इंग्लैंड के बीच मैच होना था. टीम इंडिया के खिलाड़ी रहे अरुण लाल कहते हैं, "हम सभी की नजरें इस मैच पर हैं. हम सभी सुधारों के बाद सुंदर दिख रहे इडन गार्डन को देखने के लिए बेताब हैं. यह अभी ही इतना सुंदर दिख रहा है. हर क्रिकेट प्रेमी, कोलकाता वासी इस फैसले से दुखी हो जाएंगे."

Eden Gardens

फैंस निराश

एक लाख लोग इडन गार्डन में मैच देख सकते हैं और यही है जो इसे एक शानदार मैदान बनाता है. कमेंटेटर कहते हैं, "क्या कोई तरीका नहीं है कि यह फैसला वापस ले लिया जाए. मुझे उम्मीद है कि वह फिर से इस पर सोचेंगे." वहीं भारत के पूर्व ओपनर चेतन चौहान कहते हैं, "मैं आईसीसी और भारत के क्रिकेट बोर्ड को सलाह दूंगा कि ईडन गार्डन को एक मौका और दिया जाए. उन्हें कम से कम 7 से 10 दिन दिए जाएं. मैच 27 फरवरी को है और इसमें अभी थोड़ा समय है."

चौहान मानते हैं, "अगर वह एक और मौका नहीं देते हैं तो वह यहां के लोगों, क्रिकेट प्रेमियों से वर्ल्ड कप के स्तर का एक शानदार मैच छीन लेंगे."

1987 क्रिकेट विश्व कप का फाइनल मैच ईडन में खेला गया था. अब इसमें 15, 18 और 20 फरवरी को मैच होंगे इनमें से एक में भी टीम इंडिया नहीं खेलेगी.

वहीं 1983 का विश्व कप जीतने वाली टीम के मदन लाल गुस्से से पूछते हैं, "पहला सवाल तो यह कि समय पर क्यों मैदान तैयार नहीं है. अगर एक बार आपको तारीख दे दी गई है तो इसके पहले पूरा काम हो जाना चाहिए. बात स्टेडियम की नहीं है बल्कि लोगों की है जिन्होंने एक बहुत अहम मौका खो दिया है." आईसीसी के प्रमुख जगमोहन डालमिया बंगाल क्रिकेट असोसिएशन के मुखिया हैं.

अब ईडन गार्ड की जगह पर नए आयोजन स्थल के बारे में विचार किया जा रहा है.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः एम गोपालकृष्णन

DW.COM

WWW-Links