1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

कौन जीतेगा - असली या रोबो कुत्ता?

पालतु कुत्ते रखने का जमाना हुआ पुराना, आज कल घर में रोबोटिक कुत्ते भी रखे जा रहे हैं. गूगल के बॉस्टन डायनेमिक्स ग्रुप का बनाया ये चौपाया असली कुत्ते को चुनौती देता दिख रहा है.

default

ये है बॉस्टन डायनेमिक्स ग्रुप का बिगडॉग.

अति नवीन यानि लेटेस्ट तकनीक का नमूना है स्पॉट नाम का यह चौपाया. दिखने में कुत्ते जैसा लगने वाला यह रोबोट असली कुत्ते के साथ खेलता दिखाया गया है. इसके असली लगने वाले हावभाव से असली कुत्ते का ध्यान उसकी ओर खिंचता है और फिर दोनों के बीच शुरु होता है एक मजेदार खेल. स्पॉट को बनाया है गूगल के बॉस्टन डायनेमिक्स ग्रुप ने. इस ग्रुप ने पहले भी कुछ ऐसे रोबोट बनाए लेकिन यह एकलौता है जो आम लोगों के हाथ में है, सेना के नहीं.

गूगल ने कुछ साल पहले ही दुनिया की सबसे एडवांस रोबोटिक कंपनी बॉस्टन डायनेमिक्स ग्रुप का अधिग्रहण किया था. कृत्रिम बुद्धिमत्ता और सिमुलेशन सिस्टम के क्षेत्र में काम करने वाली यह कंपनी अमेरिकी सेना के लिए रोबोटों का निर्माण करती रही है.

Robocup Roboter Fußball Weltmeisterschaft 2000 in Melbourne

मेलबर्न, ऑस्ट्रेलिया में सन 2000 में हुई रोबोटों की फुटबॉल विश्वकप प्रतियोगिता का नजारा.

इसे 1992 में मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के प्रोफेसर मार्क रायबर्ट ने एक तकनीकी समूह के रूप में शुरु किया था. 'लेग लैब' की स्थापना कर उन्होंने ही अपने पैरों पर चल सकने वाले रोबोट बनाने की शुरुआत की.

DW.COM

संबंधित सामग्री