1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

कोरिया: नपी तुली प्रतिक्रिया देगा अमेरिका

कोरिया प्रायद्वीप पर बढ़ते तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उत्तर कोरिया को गंभीर और जारी खतरा बताया है और दक्षिण कोरिया के लिए अटूट समर्थन का आश्वासन दिया है.

default

उत्तर कोरिया द्वारा दक्षिण कोरिया के येयोनपायोंग द्वीप पर गोलीबारी में दक्षिण कोरिया के दो नौसैनिक मारे गए और 15 अन्य घायल हो गए. येयोनपायोंग द्वीप पर उत्तर कोरियाई हमले के बाद दोनों देशों के बीच एक घंटे तक गोलीबारी हुई.

अमेरिकी राष्ट्रपति ने एक टेलिविजन इंटरव्यू में कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को समझना होगा कि उत्तरी कोरिया एक गंभीर और जारी खतरा है जिससे निबटना होगा. उधर चीन के दौरे पर गए अमेरिकी विशेष दूत स्टेफेन बोसवर्थ ने उत्तर कोरिया से अपने पड़ोसी के खिलाफ गैरजिम्मेदाराना और उकसावे की कार्रवाई रोकने की मांग की है.

गोलीबारी के बाद अमेरिकी नेतृत्व वाले संयुक्त राष्ट्र कमान ने तनाव घटाने के लिए उत्तरी कोरिया के साथ बातचीत की मांग की है. दक्षिण कोरिया ने चेतावनी दी है कि यदि प्योंगयांग और आक्रामक कदम उठाता है तो वह उत्तर कोरिया पर मिसाइलों से हमला करेगा. संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने दोनों पक्षों से संयम बरतने को कहा है.

दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरियाई हमले को सुरक्षाहीन नागरिकों के खिलाफ अमानवीय कार्रवाई बताया है और उत्तर कोरिया को दी जाने वाली बाढ़ सहायता को रोकने की घोषणा की है. युद्ध में विभाजित परिवारों के पुनर्मिलन पर बातचीत पहले ही रोक दी गई है.

अमेरिका के लगभग 30 हजार सैनिक दक्षिण कोरिया में हैं और वॉशिंगटन और सियोल स्थिति का मुकाबला करने के लिए नपी तुली प्रतिक्रिया पर सहमत हैं. अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मार्क टोनर ने कहा है कि प्रतिक्रिया पर हम चीन और छह दलों वाले सहयोगियों के साथ मिलजुल कर काम करेंगे. उत्तर कोरिया के एकमात्र महत्वपूर्ण साथी और आर्थिक मददगार चीन ने गोलीबारी पर चिंता व्यक्त की है लेकिन उत्तर कोरिया की खुलेआम आलोचना नहीं की है. चीनी मीडिया ने उत्तर कोरिया की कार्रवाई उसकी सख्ती बताया है. ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री केविन रड ने कहा है कि चीन को स्थिति को शांत करने के लिए उत्तर कोरिया पर अपने प्रभाव का इस्तेमाल करना चाहिए.

ताजा तनाव ऐसे समय में पैदा हुआ है जब उत्तर कोरिया ने एक ऑपरेशनल यूरेनियम संवर्धन कारखाने का रहस्योद्घाटन किया है. इसका इस्तेमाल परमाणु बम बनाने के लिए किए जाने की संभावना ने अमेरिका और उसके साथियों को चिंता में डाल दिया है. उधर उत्तर कोरिया में सत्ता किम जोंग इल के बेटे किम जोंग उन को सौंपने की तैयारी की जा रही है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: वी कुमार

DW.COM