1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

कॉमेडी फिल्म बनाना मुश्किल मानते हैं कि भंसाली

खामोशी और ब्लैक जैसी फिल्में बना चुके फिल्मकार संजय लीला भंसाली अपनी फिल्मों में गंभीर विषय उठाने के लिए जाने जाते हैं. वैसे भंसाली भी मानते हैं कि उन्हें नहीं लगता कि वह कभी कॉमेडी फिल्म को निर्देशित करना चाहेंगे.

default

गुजारिश में मुख्य भूमिका में

कुछ ही दिनों में संजय लीला भंसाली की फिल्म गुजारिश रिलीज होने वाली है. फिल्म के रिलीज होने से पहले की तैयारियों में जुटे भंसाली ने बताया, "मुझे लगता है कि कॉमेडी फिल्म बनाना काफी मुश्किल काम है. मुझे नहीं पता कि क्या यह मैं कभी कर पाऊंगा. मैं अपनी फिल्मों के बारे में कभी कोई योजना बना कर नहीं चलता. मैं नहीं कह सकता कि मेरी आने वाली फिल्म क्या होगी."

47 साल के संजय लीला भंसाली खामोशी फिल्म के जरिए मूक बधिर दंपत्ति की कहानी दर्शकों के सामने लाए तो ब्लैक में उन्होंने एक नेत्रहीन, मूक बधिर युवती की सफलता और विफलता की कहानी को दर्शाया.

उन्होंने देवदास को नए अवतार में भी पेश किया. भंसाली की ये फिल्में बॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हुईं लेकिन सांवरिया कुछ खास कमाल नहीं दिखा सकी. अब भंसाली अपनी नई फिल्म गुजारिश लेकर आ रहे हैं जिसमें दया मृत्यु (यूथेनेजिया) के गंभीर सवाल को पेश किया गया है.

भंसाली कहते हैं कि दया मृत्यु विषय पर भारतीय सिनेमा में पहले कभी काम नहीं हुआ है. "यह बेहद गंभीर विषय है. इस विषय पर भारतीय सिनेमा में कभी काम नहीं हुआ. बड़े सितारों के साथ हमने मनोरंजक फिल्म बनाई है जो संवेदनशील विषय उठाती है. हम इसका प्रचार नहीं कर रहे हैं. हम किसी का पक्ष नहीं ले रहे हैं."

इस फिल्म में मुख्य भूमिका रितिक रोशन और ऐश्वर्या राय ने निभाई हैं. रितिक एक जादूगर का किरदार निभा रहे हैं जो पक्षाघात का शिकार हो जाते हैं. ऐश्वर्या नर्स की भूमिका में हैं.

भंसाली के मुताबिक वह जिंदगी से जुड़े विषयों पर फिल्में बनाना पसंद करते हैं ताकि लोग जुड़ाव महसूस कर सकें. भंसाली मानते हैं कि वह गंभीर विषयों को मनोरंजक तरीके से पेश करते हैं क्योंकि वह लोगों को बोर नहीं करना चाहते. गुजारिश 19 नवंबर को रिलीज हो रही है. इस फिल्म का संगीत भी संजय लीला भंसाली ने ही तैयार किया है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: उज्ज्वल भट्टाचार्य