1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

वर्ल्ड कप

कॉमनवेल्थ गेम्स में सायना की चमकदार शुरुआत

मैर्सी जोसेफ के खिलाफ 21-11, 21-4 से जीत हासिल करते हुए सायना नेहवाल ने केन्या पर भारत की 5-0 से जीत का रास्ता तैयार किया. बैडमिंटन में भारतीय टीम सोने के पदक का सपना देख रही है.

default

गोल्ड का सपना

सायना के अलावा डीजु वालिया वीटिल और ज्वाला गट्टा की जोड़ी ने केन्या के फ्रेडरिक गिटुकु और अन्ना एनगांगा की जोड़ी को मिक्स्ड डबल्स में 21-8, 21-5 से हराया. जीत के बाद सायना ने कहा कि उनकी टीम का लक्ष्य सोने का पदक जीतना है.

इस प्रतियोगिता के पूर्व विजेता मलेशिया और इंग्लैंड दो-दो जीतों के साथ क्वार्टर फाइनल की ओर आगे बढ़ रहे हैं. मलेशिया को आइल ऑफ मैन व सेशल्स के खिलाफ जीत मिली, जबकि इंग्लैंड ने फॉकलैंड आइलैंड्स व उगांडा को हराया. इन सभी मुकाबलों में नतीजे 5-0 रहे.

जीत के बाद स्टेडियम की तारीफ करते हुए सायना ने कहा कि यह एक विश्व स्तर का स्टेडियम है. सारा इंतजाम बहुत अच्छा है. इससे पहले कॉमनवेल्थ खेलों के आयोजन की आलोचना की वजह से सायना पर अंगुलियां उठाई जा रही थीं.

भारत के लिए टीम का मुकाबला काफी कड़ा साबित हो सकता है. मलेशिया की टीम में विश्व के एक नंबर खिलाड़ी ली चोंग वेई जैसे खिलाड़ी हैं और सन 2002 के चैंपियन इंगलैंड की टीम में एंटनी क्लार्क है, जो 2006 में वर्ल्ड चैंपियनशिप के फाइनल में दोबारा पहुंचते हुए एक रिकॉर्ड कायम कर चुके हैं. सायना ने भी कहा कि मलेशिया और इंगलैंड की टीमें बहुत अच्छी हैं. लेकिन उनका के मुताबिक भारतीय टीम अपने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करेगी.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: एस गौड़

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री