1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

'कॉमनवेल्थ खेल भारत के लिए शर्म'

कॉमनवेल्थ खेलों के आयोजन को लेकर भारतीय मीडिया खिन्न हुआ. ज्यादातर अखबारों और टीवी चैनलों का कहना है कि बदइंतजामी और भ्रष्टाचार ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की छवि को नुकसान पहुंचाया है. अंतरराष्ट्रीय मीडिया बरसा.

default

भारत के सबसे बड़े अंग्रेजी के अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया ने अपनी हेडलाइन में कहा, ''कॉमनवेल्थ खेल, भारत के लिए शर्म.'' अखबार ने मंगलवार के हादसे की रिपोर्ट देते हुए विदेशों के अखबारों और मीडिया संस्थानों की राय भी छापी है. इसमें बताया गया है कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया किस ढंग से कॉमनवेल्थ खेलों की खिल्ली उड़ा रहा है.

अंतरराष्ट्रीय मीडिया में भी भारत की खिल्ली उड़ाई जा रही है. जर्मनी के मशहूर अखबार फ्रांकफुटर रुंडशाउ ने कहा है, ''भारत चीन से अपनी तुलना करता रहता है. चीन के ओलंपिक आयोजन को टक्कर देने का उसने कॉमनवेल्थ खेलों की मेजबानी हासिल की. लेकिन अब तस्वीर सबके सामने है. भारत को एहसास हो जाना चाहिए कि वो चीन से कितना पीछे है. जो भी खराब हो सकता था वो हो चुका है. खेलों के तीन हफ्ते पहले मेडलों का भी ऑर्डर नहीं दिया गया. चारों ओर मच्छर हैं, जो कीचड़ में इंसानी खून का मजा ले रहे हैं.''

रिपोर्ट में सबसे ज्यादा फोकस खेल गांव की गंदगी पर किया गया है. यह भी लिखा गया है कि खेल गांव रहने के लिए किस तरह अयोग्य है. खेलों में भाग लेने वाले कई देशों ने भी कॉमनवेल्थ खेल गांव की आलोचना की है.

ओवरब्रिज हादसे का जिक्र करते हुए अंग्रेजी के एक और बड़े अखबार हिंदुस्तान टाइम्स ने कहा है, ''निर्माण के नाम पर यह एक भद्दा मजाक था. लोग कई तरह की आशंकाएं कर रहे थे, उनमें से एक मंगलवार को सच साबित हुई.'' अखबार ने कॉमनवेल्थ खेलों को 'राष्ट्रीय शर्म' करार दिया.

कॉमनवेल्थ खेल आयोजन समिति के अध्यक्ष सुरेश कलमाड़ी की भी कड़ी आलोचना हो रही है. एक बड़े अंग्रेजी न्यूज चैनल टाइम्स नाउ से उनसे सीधा सवाल किया है कि, ''क्या कलमाड़ी जिम्मेदारी लेंगे.'' चैनल ने उनसे कॉमनवेल्थ खेलों को लेकर विस्तार से 10 सवाल पूछे हैं. लेकिन फिलहाल कलमाड़ी का अता पता नहीं चल रहा है.

पायनियर अखबार ने अपने शीर्षक में कहा है, ''सीडब्ल्यूजी अव्यवस्था और बुरी गत में पहुंची: पुल गिरा, 27 घायल.''

इन रिपोर्टों के इतर बुधवार को कॉमनवेल्थ खेल आयोजन समिति के महासचिव ललित भनोट सामने आए. ठोस सबूत या आधार दिए बिना उन्होंने फिर कहा, ''मैदान बहुत शानदार स्थिति में हैं. इस हफ्ते के अंत तक तैयारियां पूरी हो जाएंगी.''

रिपोर्ट: एएफपी/ ओ सिंह

संपादन: एम गोपालकृष्णन