1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

"कॉमनवेल्थ खेल तो होंगे, लेकिन किस स्तर के"

दिल्ली कॉमनवेल्थ खेलों में अब सिर्फ चार महीने का समय बचा हैं, लेकिन तयारियां अब भी पूरी होती नहीं दिख रही हैं. कॉमनवेल्थ खेल संघ के सीईओ माइक हूपर अब तक खेल स्थलों के तैयार न होने से परेशान हैं.

default

अक्टूबर में होने हैं खेल

अक्टूबर में होने वाले कॉमनवेल्थ खेलों को लेकर भले ही सरकार ज्यादा चिंतित न दिखे लेकिन तैयारियां अधूरी हैं. एक तरफ सरकार खेलों के चलते दिल्ली का चेहरा मोहरा बदलने की अपनी योजना को उपलब्धि मान रही है तो दूसरी ओर कॉमनवेल्थ खेलों के मुख्य कार्यकारी अधिकारी माइक हूपर खासे चिंतित हैं.

मैदानों में निर्माण कार्य जारी

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के साथ इंटरव्यू में माइक हूपर ने कहा है कि निर्माण कार्य निर्धारित समय से बहुत पीछे चल रहा है. खेलों की तयारियों पर चिंता जताते

Commonwealth Games Federation - Pressekonferenz

भारतीय अधिकारी कहते हैं, सब ठीक हो जाएगा

हुए उन्होंने कहा, "मैं कोई हड़बड़ी पैदा नहीं करना चाहता, लेकिन सच्चाई यही है कि अब भी बहुत सा काम होना बाकी है." दिल्ली में कॉमनवेल्थ खेलों पर मंडराने वाली आशंका को दूर करते हुए हूपर कहते हैं, "खेल तो होंगे, तैराकी भी होगी और एथलेटिक्स भी, लेकिन यहां मुद्दा यह है कि किस स्तर पर होंगे."

उधर नई दिल्ली में सैलानियों और खेल प्रेमियों को लुभाने के लिए पुरानी इमारतों की भी मरम्मत हो रही है. नई सडकें और फ्लाईओवर भी बनाए गए हैं, लेकिन खेल मैदान और स्विमिंग पूल अब भी तैयार नहीं हुए हैं. हूपर कहते हैं, "निर्माण एजंसियों ने तो वादा किया है कि वे निर्धारित तारीख तक सारा काम ख़त्म कर देंगे, लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि पहले भी हमें ऐसे हालात का सामना करना पड़ा है जब वादे तो किए गए लेकिन किसी ना किसी वजह से उन्हें पूरा नहीं किया गया."

अभी खरीदने हैं स्कैनर

भारत की चिंताएं सिर्फ यहीं पर समाप्त नहीं होती हैं, सुरक्षा के लिहाज़ से भी बहुत सा काम होना बाकी है. सूत्रों की मानें तो अभी तक हाईटेक स्कैनर और एक्सरे मशीनें खरीदी जानी भी बाकी हैं जबकि अब तक तो उन्हें स्टेडियमों

Baustelle in Indien

अब तक चल रही हैं तैयारियां

में लगाने का काम शुरू हो जाना चाहिए था. पिछले महीने आईपीएल मैचों के दौरान बैंगलोर के चिन्नास्वामी स्टेडियम के बाहर धमाकों के बाद यह भी कहा जा रहा है कि क्या भारत सुरक्षा के लिहाज़ से खेलों के लिए तैयार है. हूपर कहते हैं, "सुरक्षा के लिहाज़ से चिंता सभी को है, लकिन अभी तक किसी भी टीम ने हिस्सा लेने से इनकार नहीं किया है."

भारत में 3 से 14 अक्टूबर तक कॉमनवेल्थ खेल होने हैं. 12 दिनों तक चलने वाले इन खेलों में 54 देशों की 71 टीमें भाग लेंगीं. कुल मिलाकर करीब 10,000 खिलाड़ी और बीस लाख पर्यटकों के आने की उम्मीद की जा रही है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ईशा भाटिया

संपादनः ए कुमार

संबंधित सामग्री