1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

वर्ल्ड कप

कॉमनवेल्थ खेल आज से, दिल्ली बनी छावनी

कॉमनवेल्थ खेलों के उद्घाटन से पहले दिल्ली में सुरक्षा बेहद कड़ी कर दी गई है. हजारों सुरक्षाकर्मियों को शहर के चप्पे चप्पे में तैनात किया गया है. सुरक्षा और ट्रैफिक की स्थिति को देखते हुए राजधानी में स्कूल और दफ्तर बंद.

default

दिल्ली की सड़कों और ऊंची इमारतों पर बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं. हैलीकॉप्टरों के जरिए आकाश से भी धरती पर नजर रखी जा रही है. कॉमनवेल्थ खेलों के लिए तैयार किए गए आयोजन स्थलों में बख्तरबंद गाड़ियां और स्कैनरों का जमावड़ा दिख रहा है. पूरे शहर में 3,000 क्लोज सर्किट कैमरे लगाए गए हैं.

राजधानी की महत्वपूर्ण और संवेदनशील जगहों पर कमांडो दस्ते भी तैनात किए गए है. खोजी कुत्तों के कई दल झाड़ियों और कूड़ेदानों की तलाशी ले रहे हैं. विशेष रूप से प्रशिक्षित अर्धसैनिक बलों के साथ दिल्ली पुलिस के जवानों को भी पूरी मुस्तैदी के साथ ड्यूटी करने का आदेश दिया गया है. किसी भी तरह का संदेह होने पर आला अधिकारियों और पुलिस हेडक्वार्टर को सूचित करने के आदेश दिए गए हैं.

दिल्ली पुलिस के कमिश्नर युद्धवीर सिंह डडवाल का कहना है कि सुरक्षा ''कई परतों और कई आयामों वाली है.'' पुलिस ने लोगों से भी सहयोग की अपील की है. गृहमंत्रालय का भी कहना है कि सुरक्षा पुख्ता है और लोगों को खेलों का आनंद लेना चाहिए.

कॉमनवेल्थ खेलों की उद्धाटन भारतीय समयानुसार आज शाम सात बजे होगा. जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में ब्रिटेन के राजकुमार चार्ल्स आधिकारिक शुरूआत करेंगे. समारोह में कई देशों की शीर्ष नेता भी शिरकत करेंगें.

कॉमनवेल्थ खेलों में हिस्सा लेने वाले 71 देशों के खिलाड़ी भारत पहुंच चुके हैं. तमाम शिकायतों और खामियों के बाद अब हर किसी ने तैयारियों पर संतोष जताया है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: एमजी

DW.COM

WWW-Links