1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

कॉमनवेल्थ की टक्कर क्रिकेट से

भारत मेंकॉमनवेल्थ गेम्स के सामने एक और चुनौती. तैयारी, सुरक्षा और अंदरूनी खींचतान पर सवाल के बाद अब उसी वक्त ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम आने वाली है. देखना है कि क्रिकेट की दीवानी भारतीय जनता क्या देखती है.

default

रिकी पोंटिंग की अगुवाई में कंगारुओं की टीम सितंबर और अक्तूबर में भारत का दौरा करने वाली है. इसी दौरान चार सालों पर होने वाला कॉमनवेल्थ गेम्स भी तीन से 14 अक्तूबर तक आयोजित किया जाएगा.

भारतीय क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई के एक सूत्र ने बताया कि ऑस्ट्रेलिया का दौरा अंतरराष्ट्रीय कैलेंडर का हिस्सा है और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के साथ मिल कर इस पर आखिरी सहमति बनानी है. बीसीसीआई के मुख्य कार्यकारी रत्नाकर शेट्टी ने बताया, "हमने ऑस्ट्रेलिया से अनुरोध किया है कि सात वनडे मैचों की सीरीज की जगह वह यहां दो टेस्ट मैच और तीन वनडे मैच खेले."

ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम को सितंबर के आखिर तक भारत आना है लेकिन 31 अक्तूबर से पहले पहले देश लौटना है. इसके बाद उन्हें श्रीलंका के साथ ट्वेन्टी 20 और वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है.

अगर ऑस्ट्रेलिया का क्रिकेट दौरा पक्का हो जाता है, तो इससे भारतीय ओलंपिक संघ के अधिकारियों की नाराजगी और बढ़ सकती है. हाल ही में भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने एशियाई खेलों में पुरुष और महिला टीमों को न भेजने का फैसला किया था, जिसके बाद संघ और बोर्ड में तनातनी चल रही है. अब कॉमनवेल्थ खोलों के दौरान ही ऑस्ट्रेलिया का क्रिकेट दौरे हुआ, तो कम से कम टेलीविजन पर दर्शकों की संख्या बंट सकती है. भारत में क्रिकेट को लेकर जुनून है और ज्यादातर लोग किसी दूसरे खेल की बजाय क्रिकेट देखना पसंद करते हैं.

Australien Cricket Meisterschaft Neuseeland

क्रिकेट और कॉमनवेल्थ एक साथ

भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष सुरेश कलमाडी पहले ही कह चुके हैं कि बीसीसीआई एशियाड में क्रिकेट टीम नहीं भेज रहा है क्योंकि वहां पैसे नहीं मिलेंगे. उन्होंने कहा, "मुझे लगता कि वे लिए सिर्फ पैसे की सोचते हैं. मुझे खुशी है कि कॉमनवेल्थ गेम्स में क्रिकेट नहीं है." 1998 में आखिरी बार कॉमनवेल्थ खेलों में क्रिकेट शामिल हुआ था.

हालांकि ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेट दौरे में दिल्ली के फिरोजशाह कोटला ग्राउंड पर मैच होने की संभावना नहीं के बराबर है. लेकिन फिर भी टेलीविजन दर्शक बुरी तरह प्रभावित होंगे. भारत में क्रिकेट का क्या क्रेज है, इसका अंदाजा इस बात से भी लग सकता है कि हॉकी संघ ने मार्च में वर्ल्ड कप तय वक्त से महीना भर पहले ही करा लिया था क्योंकि अप्रैल में आईपीएल शुरू होने वाला था.

इस बीच, कॉमनवेल्थ गेम्स के टिकटों की बिक्री शुरू हो गई है. खेलों के लिए टिकट 50 रुपये से एक हज़ार रुपये हैं जबकि उद्घाटन और समापन समारोहों के लिए सबसे महंगा टिकट 50 हज़ार रुपए का है. मैराथन, वॉकिंग, साइकलिंग रोड रेस और साइकलिंग टाइम ट्रायल प्रतियोगिताओं के लिए कोई टिकट नहीं होगा.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः आभा मोंढे

संबंधित सामग्री