1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

कॉमनवेल्थ और एशियाई खेलों पर सानिया की नजर

हाल ही में पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी रचाने वाली भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने कहा है कि वह चोट से खुद को बचाने की कोशिश करेंगी और उनका लक्ष्य इस साल कॉमनवेल्थ और एशियाई खेलों में मेडल जीतना है.

default

सानिया ने कहा कि शादी के बाद भी टेनिस उनकी पहली प्राथमिकता बना रहेगा और वह दिल्ली में 3 से 14 अक्तूबर तक होने वाले कॉमनवेल्थ खेलों में बेहतर प्रदर्शन करने पर ध्यान केंद्रित कर रही हैं. इसके बाद चीन के कुआंगचु में होने वाले एशियाई खेल भी उनके एजेंडे में हैं.

सानिया के कहा, "कॉमनवेल्थ खेल और एशियाई खेल आने वाले हैं और वे इस साल मेरी प्राथमिकता हैं. मैं इन टूर्नामेंटों के लिए फिट और हैल्दी रहने की कोशिश करूंगी. खासकर मैं कॉमनवेल्थ खेलों के लिए उत्सुक हूं क्योंकि ये भारत में हो रहे हैं और ये मेरे पहले कॉमनवेल्थ खेल होंगे."

Indien Pakistan Shoaib Malik und Sania Mirza Ehe

शादी से पहले झमेलों से भी गुजरना पड़ा सानिया और शोएब को

सानिया कहती हैं कि जहां तक रैंकिंग का सवाल है तो उन्होंने अपने लिए कोई लक्ष्य निर्धारित नहीं किया है. उनकी कोशिश बस चोट से बचे रहने की है. उनके मुताबिक, "मेरा कोई लक्ष्य नहीं है. मैंने कभी अपना लक्ष्य तय नहीं किया. मुझे लगता है कि मुख्य लक्ष्य स्वस्थ रहना और चोटों से बचे रहना है जो खेल में बहुत मुश्किल होता है. फिर भी मैं जब तक खेल सकती हूं, खेलूंगी. मेरी कोशिश कॉमनवेल्थ और एशियाई खेलों में मेडल जीतने की होगी. मैं रैंकिंग के बारे में नहीं सोचती."

शादी के बाद अब शोएब और सानिया दुबई में रहेंगे. सानिया नहीं मानतीं कि जगह बदलने से उनके करियर पर कोई असर पड़ेगा. वह कहती हैं, "दुबई बहुत दूर नहीं है. यह लगभग दिल्ली में रहने जैसा है. तीन घंटे ही तो लगते हैं. मैं बहुत से लोगों को, टेनिस कोर्ट और कोच को जानती हूं. तो प्रैक्टिस या फिर किसी और तरह की दिक्कत नहीं होगी. वैसे भी हम घर पर ज्यादा समय नहीं बिताते हैं. मैं भी बाहर रहती हूं. उन्हें भी जाना होता है. शादी से पहले भी मैं साल में 35 हफ्ते सफर करती थी. घर पर होते हैं तो वक्त मिल जाता है. इसलिए निजी रूप से कोई फर्क नहीं पड़ेगा."

सानिया का यह भी कहना है कि शादी ने उनकी जीवन में खुशियां भर दी हैं और यह बिल्कुल सही समय पर हुई है. वह कहती हैं, "यह (शादी) जिंदगी का हिस्सा है. मुझे लगता है कि इससे बहुत सी खुशियां आएंगी. यह किसी की जिंदगी में भी एक सकारात्मक चीज है."

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः प्रिया एसेलबोर्न

संबंधित सामग्री