1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

कैसे बनती हैं दवाएं

जर्मनी समेत यूरोप के कई देशों में जानवरों या इंसानों की बजाए अब कंप्यूटरों पर होने लगी है नई दवाओं की टेस्टिंग.

किसी नई दवा के बाजार में आने से पहले उसे जानवरों और इंसानों पर टेस्ट किया जाता है. हर साल इसमें सैकड़ों लोगों की जान चली जाती है. यही कारण है कि अब जानवरों की बजाए कंप्यूटरों पर टेस्टिंग होने लगी है.

WWW-Links

संबंधित सामग्री