1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

कैमरन ने कहा आतंकवाद पर बयान सही

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने पाकिस्तान से आतंकवाद के निर्यात पर भारत में दिए गए अपने बयान को सही ठहराया है और कहा है कि वे जो समझते हैं उसे बोलना उनका कर्तव्य है.

default

डेविड कैमरन

मुख्य रूप से व्यापारिक रिश्तों को बढ़ाने पर लक्षित यात्रा के दौरान बंगलोर में कैमरन से जब दक्षिण एशिया में अशांति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने पाकिस्तान को उग्रपंथी गुटों का स्वर्ग बनने के खिलाफ चेताया. उन्होंने पाकिस्तान से आतंकवाद के निर्यात के खिलाफ चैतावनी दी लेकिन साथ ही कहा कि ब्रिटेन एक मजबूत और स्थिर पाकिस्तान चाहता है.

कैमरन का बयान विकीलीक्स वेबसाइट पर उन दस्तावेजों को लीक किए जाने के तुरंत बाद आया है जिसमें अफगानिस्तान में तालिबान गुटों के साथ पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के रिश्तों की बात कही गई है. पाकिस्तान के साथ संबंधों पर कैमरन ने बंगलोर में कहा, "यह एक स्पष्ट संदेश पर आधारित रिश्ता होना चाहिए, कि आतंकवाद को बढ़ावा देने वाले गुटों के साथ संबंध रखना सही नहीं है."

Taliban in Afghanistan

पाकिस्तान से सक्रिय है तालिबान

कैमरन की बेबाक टिप्पणियों पर बहस छिड़ गई है. ब्रिटेन में पाकिस्तान के राजदूत ने कैमरन पर क्षेत्रीय शांति की संभावनाओं को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया है तो इस्लामाबाद में पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री को आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष में पाकिस्तान के बलिदानों की याद दिलाई है.

ब्रिटेन में कूटनीति विशेषज्ञों के बीच यह बहस छिड़ गई कि कैमरन का बयान एक गैरअनुभवी 43 वर्षीय प्रधानमंत्री का बयान है या खुलेपन की नई ब्रिटिश नीति को दिखाता है. डेविड कैमरन पिछले दो दशकों में ब्रिटेन के सबसे युवा प्रधानमंत्री हैं.

गुरुवार को भारत यात्रा के दौरान बीबीसी को दिए गए इंटरव्यू में कैमरन ने कहा कि वे नहीं समझते कि उनके बयान ने पाकिस्तान के साथ रिश्तों को बिगाड़ा है. कैमरन ने कहा, "मैं नहीं समझता कि ब्रिटिश करदाता यह चाहता है कि मैं दुनिया भर में जाउं और वह कहूं जो लोग सुनना चाहते हैं."

यह पूछे जाने पर कि क्या इस बयान का असर उनके भारत दौरे पर पड़ेगा कैमरन ने कहा, "मैं समझता हूं कि इन मुद्दों पर खुलकर और साफ साफ बोलना जरूरी है. मैंने अतीत में हमेशा यही किया है और भविष्य में भी करूंगा."

पाकिस्तान के राष्ट्रपति अगले हफ्ते ब्रिटेन के दौरे पर जा रहे हैं जहां उनकी प्रधानमंत्री कैमरन से भी मुलाकात होगी.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: एन रंजन

DW.COM