1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

कैप्टन कोहली की खुदकुशी पर मां को शक

शौर्य चक्र पाने वाले भारतीय सेना के कैप्टन सुमित कोहली की मां वीणा कोहली को संदेह है कि उनके बेटे की जम्मू कश्मीर में सैन्य रहवासी कॉम्प्लेक्स में हत्या की गई. 2006 में कोहली की रहस्यमयी हालात में मौत हो गई.

default

भारतीय सेना पर उठते सवाल

वीणा कोहली और उनकी बेटी ने भारत के रक्षा मंत्री एके एंटनी से शनिवार को नई दिल्ली में मुलाकात कर मांग की कि उनके बेटे सुमित कोहली की मौत की स्वतंत्र जांच करवाई जाए. उन्होंने परिवार को न्याय दिलाने की अपील की. वीणा कोहली को संदेह है कि उनके बेटे की जम्मू कश्मीर के आर्मी रेजिडेंशल कॉम्पलेक्स में साथी अधिकारियों ने हत्या कर दी.

कोहली ने सेना पर आरोप लगाया है कि उनके बेटे की आत्महत्या का दावा कर उन्होंने उसकी छवि को खराब किया है. कोहली ने अपने बेटे के सम्मान को बहाल करने की मांग की.

वीणा कोहली की बेटी नम्रता के हवाले से समाचार एजेंसी पीटीआई ने लिखा है कि एंटनी ने परिवार को आश्वासन दिया है कि मामले की फिर से जांच की जाएगी. नम्रता ने कहा, "हमने रक्षा मंत्री से 15-20 मिनट बात की और मेरे भाई की मौत की स्वतंत्र जांच करवाने की मांग की. उन्होंने हमें इसका आश्वासन दिया है."
18 राष्ट्रीय राइफल्स के कैप्टन कोहली 30 अप्रैल 2006 के दिन लोलाब में अपने बैरक में मृत मिले थे. उनके शरीर पर गोलियों के घाव थे. मौत से दो ही महीने पहले सुमित कोहली को शौर्य चक्र दिया गया था. बेटे की मौत के दुख से पिता को हार्ट अटैक हुआ. बेटे के अंतिम संस्कार के एक ही दिन बाद पिता की भी मौत हो गई.
तब से वीणा कोहली पोस्टमार्टम रिपोर्ट सहित दूसरी जानकारी और कागजात पाने की कोशिश करती रही हैं. सूचना के अधिकार के आधार पर जानकारी लेने की कोशिश तब नाकाम हो गई जब सेना ने कहा कि सूचना का अधिकार जम्मू कश्मीर में लागू नहीं होता. इसके बाद कोहली ने दिल्ली हाई कोर्ट में अपील की. हाई कोर्ट ने सेना को जानकारी देने का निर्देश दिया.
वीणा कोहली के वकील ने कहा कि कागजात मिलने के बाद कैप्टन कोहली की हत्या के हालात पर संदेह पैदा हुआ. उन्होंने कहा, "शव परीक्षण और मेडिकल रिपोर्टों में भी विरोधाभास है. हमने इन दस्तावेज़ों की कॉपी भी रक्षा मंत्री को दी है. उन्होंने हमारी बात बहुत ध्यान से सुनी और आश्वासन दिया कि युवा अधिकारी की मौत की फिर से जांच की जाएगी."
वीणा कोहली ने कहा, "उसकी मौत कैसे हुई यह पता लगना चाहिए. मैंने पहले सोचा था कि सेना जो भी कह रही है सही है, लेकिन मैं पोस्टमार्टम रिपोर्ट चाहती हूं ताकि मैं पूरी तरह संतुष्ट हो. मुझे विश्वास नहीं होता कि उसने आत्महत्या की होगी. वह शौर्य चक्र विजेता था और एक बहादुर ऑफिसर था. वह ऐसा कर ही नहीं सकता."

वीणा कोहली का आरोप है कि उनके बेटे की हत्या के पीछे कुछ साथी अफसर हो सकते हैं. कोहली कहती हैं, "मैं नहीं कहती कि पूरी सेना इस तरह की है लेकिन कुछ लोग उन्हें रास्ते से हटाना चाहते थे क्योंकि सुमित जानता था कि अंदर क्या चल रहा है. कश्मीर की लोलाब घाटी में पोस्टिंग के आखिरी दिन यह घटना हुई थी."
रिपोर्टः पीटीआई/आभा एम

संपादनः वी कुमार