1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

कृष्णा के पाकिस्तान दौरे पर भारी विवाद

भारत पाक विदेश मंत्रियों की विफल बातचीत के बाद बीजेपी ने सरकार के ख़िलाफ़ मोर्चा खोला है तो पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने आरोप लगाया है कि भारत संवाद के लिए तैयार नहीं है.

default

कृष्णा और कुरैशी

बीजेपी ने आरोप लगाया है कि बातचीत के लिए इस्लामाबाद गए भारतीय विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने भारतीय गृह सचिव जीके पिल्लै का तब बचाव नहीं किया जब पाकिस्तानी विदेश मंत्री क़ुरैशी उनकी इस बयान के लिए खुली आलोचना कर रहे थे कि पाकिस्तानी खुफ़िया एजेंसी आईएसआई ने मुंबई हमलों का समन्वय किया.

बीजेपी के प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने कहा, "पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने भारतयी गृह सचिव पर हमले किए. मुझे अफसोस है कि वहां के विदेश मंत्री ने गृह सचिव का बचाव नहीं किया."

मुबंई आतंकी हमलों के बाद पहली बार विदेश मंत्रियों की बैठक पर टिप्पणियों के बीच पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने भारत पर संवाद के लिए तैयार न होने का आरोप लगाते हुए कहा है कि कश्मीर को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की अपनी चिंताएं हैं, जिन्हें भारत को समझना चाहिए.

इधर कांग्रेस पार्टी ने पिल्लै की टिप्पणियों की जमात उद दावा के सरगना और मुंबई हमलों के कथित मास्टरमाइंड हाफ़िज़ सईद की भारत विरोधी बयानों से तुलना करने के पाकिस्तान के प्रयासों को हास्यास्पद बताया है.

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि कृष्णा ने कुरैशी की इस टिप्पणी की पुष्टि नहीं की है कि दोनों मंत्रियों ने आईएसआई की भूमिका पर पिल्लै के बयान को बेवजह माना है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: ए जमाल

संबंधित सामग्री