1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

कुत्तों का समुद्री किनारा

तेज धूप में चमकता समंदर और किनारे पर भारी भीड़भाड़. इटली के बीचों पर ये एक बहुत ही सामान्य नजारा है. लेकिन जब रोम के एक बीच की बात आती हैं तो समंदर का मजा लोग नहीं, बल्कि कुत्ते लेते हैं.

बाउबीच रोम के बाहर बनाया हुआ एक बीच है जो सिर्फ कुत्तों के लिए है. इटली में कुत्ते पालने का फैशन बढ़ा है. मालिकों के साथ कुत्तों की सैर के लिए ये जगह बनाई गई है. मोरेना नाम के लैब्राडोर के साथ जोसे लुइस यहां रोज आते हैं. वह कहते हैं, "यह कुत्तों का बीच है, इंसान सिर्फ उनके मेहमान हैं."

वह मजाक नहीं कर रहे हैं. जो भी कुत्ता यहां आता है, उसे एक छतरी और पानी का प्याला दिया जाता है और इंसानों को उनका ध्यान रखना है.

बाउबीच का नाम इटैलियन भाषा से आया है. बाउ शब्द का इस्तेमाल भौंकने के लिए किया जाता है. इस इलाके में यही सिर्फ एक ऐसा बीच है जो सिर्फ कुत्तों के लिए है. कुत्तों और उनके मालिकों को कुछ नियम भी मानने जरूरी हैं. इसमें कुत्ते का मल उठाना भी अनिवार्य है.

और जब कुत्ते अपने नए दोस्तों के साथ बीच पर धमाल मचा रहे होते हैं, मालिक आराम कर सकते हैं. रोम से यहां आने वाले रोबेर्टा कहते हैं, "ये एकदम बढ़िया है, मेरा कुत्ता मजे करता है और मैं आराम. इससे एक ही तीर से दो शिकार हो जाते हैं."

और जरूरत

छह करोड़ की जनसंख्या वाले इटली में छह लाख रजिस्टर्ड पालतू कुत्ते हैं, इन्हें रेस्तराओं और बार में ले जाया जा सकता है. हालांकि समंदर किनारे पर उन्हें जाने की मनाही है. 1998 में पाट्रिसिया डाफिना ने बाउबीच बनाया. उन्होंने बताया, "दूसरे विश्व युद्ध के आखिर में विकास नीति के कारण पर्यटकों वाले इलाके में कुत्तों की कोई जगह नहीं बची क्योंकि साफ तस्वीर पेश करनी थी."

रोम से 30 मिनट की दूरी पर बना बाउबीच सात हजार वर्ग मीटर में फैला है. यहां एक बार में 100 कुत्ते लाए जा सकते हैं. साल भर की फीस 13 यूरो है. हर बार आने पर चार यूरो का टिकट. बीच पर कुत्तों के लिए लाइफगार्ड, डॉगी शॉवर्स भी हैं.

अपने कुत्तों को मजे करते हुए देख कर मालिक भी खुश और समंदर किनारे आजादी भागने दौड़ने की जगह मिलने से कुत्ते भी खुश.

एएम/ओएसजे (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री