1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

वर्ल्ड कप

कीट पतंगों की वजह से हारी: सानिया

अगर दिल्ली में कीट पतंगे कुछ कम होते तो शायद भारत को कॉमनवेल्थ खेलों में एक गोल्ड मेडल और मिल जाता. सानिया मिर्जा की बातों से तो यही लगता है कि कीट पतंगों ने भारत का मेडल छीन लिया.

default

भारत की टेनिस स्टार सानिया मिर्जा का कहना है कि कॉमनवेल्थ गेम्स के महिला एकल फाइनल मुकाबले में वह कीट पतंगों की वजह से हारीं. सानिया फाइनल में ऑस्ट्रेलिया की रोडियोनोवा से हार गईं. उन्हें सिल्वर मेडल मिला.

सानिया मिर्जा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों को बताया कि मैच के वक्त मैदान में कीट पतंगे बहुत ज्यादा हो गए. इनकी वजह से सानिया का ध्यान बंट गया और वह खेल पर पूरी तरह से अपनी ऊर्जा नहीं लगा पाईं. इसी वजह से रोडियोनोवा ने उन्हें हरा दिया.

सानिया ने कहा, "मैं दिल्ली में काफी सालों से खेल रही हूं. लेकिन मैंने कभी टेनिस कोर्ट पर इतने सारे कीट पतंगों को एक साथ उड़ते नहीं देखा. वहां बहुत सारे कीट पतंगे थे और तरह तरह के कीट थे."

Commonwealth Games Indien Tennis Sania Mirza Flash-Galerie

सानिया भारत के लिए गोल्ड मेडल की बड़ी उम्मीद रहीं लेकिन इस मैच में हारकर उन्हें सिल्वर से ही संतोष करना पड़ा. रोडियोनोवा ने उन्हें 6-3, 2-6, 7-6 (7-3) से हराकर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया.

कीटों को अपनी हार के लिए जिम्मेदार बताते हुए सानिया ने कहा, "ये एक बड़ी परेशानी साबित हुए. इनकी वजह से ध्यान बंट रहा था. आप एक महत्वपूर्ण मैच खेल रहे हैं और कीट पतंगें आपके मुंह में जा रहे हों तो आप क्या कर सकते हैं. कुछ आपकी नाक में घुस रहे थे. यह बहुत ज्यादा परेशान करने वाला था."

सानिया मिर्जा की यह टिप्पणी आयोजकों को कुछ परेशान कर सकती है क्योंकि विदेशी खिलाड़ी तो भारत में मच्छरों की शिकायत करते ही रहे हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः उभ

DW.COM

WWW-Links