1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

किसे मिलेगी जर्मन टीम में जगह

फुटबॉल विश्व कप के लिए जर्मन टीम के संभावित खिलाड़ियों के एलान के पहले कोच योआखिम लोएव को चोट और खराब फॉर्म जैसे सिरदर्द से जूझना पड़ रहा है. इसी हफ्ते 26 या 27 खिलाड़ियों के नाम का एलान होने वाला है.

राष्ट्रीय टीम के कुछ खिलाड़ियों पर चोट और खराब फॉर्म का असर दिख रहा है. ऐसे में हो सकता है कि लोएव अपनी घोषणा में कुछ ऐसे नाम लें जिससे कुछ लोगों की भौंहें तन जाए. जैसा कि उन्होंने मार्च में चिली के खिलाफ खेले गए दोस्ताना मैच में अपनी टीम का एलान करके किया था.

उस मैच के लिए लोएव ने ऐसे खिलाड़ियों को नामांकित किया था जो कम अनुभव वाले थे. जैसे फ्राइबुर्ग के मथियास गिंटर, हैम्बर्ग के पिरेरा मिषेल लासोग्गा, ऑग्सबुर्ग के आंद्रे हान और साम्प्डोरिया के श्कोद्रान मुस्तफी. बहुत कुछ इस पर भी निर्भर करेगा कि कोच अनुभवी खिलाड़ियों के फिट होने तक के समय को किस तरह से देखते हैं. क्योंकि चोटिल खिलाड़ियों की वजह से इस सीजन टीम के प्रदर्शन पर असर पड़ा है और साथ ही साथ ब्राजील जाने के पहले लोएव की जिंदगी भी कठिन हो गई है.

लोएव ने पहले ही साफ कर दिया है कि अगले महीने होने वाले विश्व कप के लिए टीम का चुनाव एक या दो खिलाड़ी के लिए दर्द भरा हो सकता है. उन्होंने बार बार जोर देकर कहा है कि उन्हीं खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा जो बेहद फिट हैं. लोएव ने कहा, "हमें ऐसी टीम की जरूरत है जो ज्यादा से ज्यादा तनाव झेल सके. हमें सैद्धांतिक रूप से सबसे अच्छे खिलाड़ी नहीं चाहिए. हमें सर्वश्रेष्ठ उपलब्ध खिलाड़ियों की जरूरत है."

Fußball Deutsche Nationalmannschaft Gruppenbild

जर्मन टीम की फाइल तस्वीर

इन बातों पर ध्यान दिया जाए तो स्ट्राइकर मारियो गोमेज चोट से परेशान चल रहे हैं, गोलकी रेने आडलर का एसवी हैम्बर्ग के साथ विवाद चल रहा है, शाल्के के मिडफील्डर यूलियान ड्राक्सलर का प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं रहा है. इन जैसे खिलाड़ियों पर लोएव की कड़ी नजर रहेगी.

इसी के साथ डॉर्टमुंड के मिडफील्डर इल्काई गुंडोवान कमर के दर्द से परेशान हैं और इस सीजन में बाहर ही रहे. ऐसे खिलाड़ियों की सूची बहुत लंबी है जो इस सीजन लंबा नहीं खेल पाए या फिर अभी भी किनारे पर हैं उनमें सेमी केदीरा, बास्तियान श्वाइनश्टाइगर, मिरोस्लाव क्लोजे, मेसुत ओएजेल, मात्स हुम्मेल्स और मार्सेल श्मेल्सर जैसे खिलाड़ी शामिल हैं. ऐसे खिलाड़ियों की सूची बहुत लंबी है.

बायर्न म्यूनिख के सात खिलाड़ियों को संभावित टीम में जगह मिलने के संकेत हैं, जबकि डार्टमुंड के आक्रामक मिडफील्डर मार्को रॉयस और डिफेंडर मात्स हुम्मेल्स भी जगह पा सकते हैं. लोएव गुरुवार को संभावित टीम का एलान करेंगे और वे अपने विकल्प एक हफ्ते के लिए खुले रख सकते हैं. जर्मन फुटबॉल फेडरेशन ने 13 मई की मध्यरात्रि तक 30 खिलाड़ियों के नाम जारी करने का समय दे रखा है. उसी दिन जर्मन टीम अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय दोस्ताना मैच पोलैंड के साथ हैम्बर्ग में खेलने वाली है. लोएव के पास यह आखिरी मौका होगा संभावित खिलाड़ियों को छांटने का.

एए/एमजे (डीपीए)

संबंधित सामग्री