1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

किरण कुमार रेड्डी बने आंध्र के सीएम

आंध्र प्रदेश में नल्लारी किरन कुमार रेड्डी ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है. पूर्व विधानसभा अध्यक्ष रेड्डी को पूर्व मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी का वफादार माना जाता है. उन्होंने कहा कि सबको साथ लेकर चलेंगे.

default

आंध्र कांग्रेस में कलह

राज्यपाल ईएसएल नरसिंहन ने 50 वर्षीय किरन रेड्डी को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. उन्हें बुधवार को के रोसैया के इस्तीफे के बाद राज्य विधायक दल का नेता चुना गया. राजभवन के दरबार हॉल में संक्षिप्त शपथ ग्रहण समारोह में केंद्रीय मंत्री और पार्टी पर्यवेक्षक एम वीरप्पा मोइली, गुलाम नबी आजाद, निवर्तमान मुख्यमंत्री के रोसैया और विधायकों ने हिस्सा लिया.

गुरुवार को सिर्फ रेड्डी ने ही शपथ ली. पार्टी सूत्रों के मुताबिक मंत्रिमंडल का गठन कांग्रेस हाई कमान के साथ सलाह मशविरे के बाद किया जाएगा. वैसे तो रोसैया ने निजी कारणों का हवाला देकर इस्तीफा दिया है लेकिन माना जाता है कि वाईएसआर के बेटे जगनमोहन रेड्डी के बागी तेवरों को ढीला करने के लिए किरन कुमार रेड्डी को राज्य सरकार की कमान सौंपी गई है. पिछले दिनों जगनमोहन रेड्डी के टीवी चैनल पर प्रसारित एक कार्यक्रम में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को निशाना बनाया गया.

इस बीच किरण कुमार रेड्डी ने कहा कि वे विपक्षी पार्टियों समेत सब को साथ लेकर चलने की कोशिश करेंगे. जब उनसे तेलंगाना के मुद्दे के बारे में पूछा गया तो रेड्डी ने कहा कि श्रीकृष्णा कमेटी को अपनी रिपोर्ट सौंपनी बाकी है और वह केंद्र सरकार की सलाह से सभी मुद्दों को सुलझाने की कोशिश करेंगे. उन्होंने राज्य विधायक दल का नेता चु्ने जाने पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, साथी विधायकों और पार्टी कार्यकर्ताओं को धन्यावाद दिया.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः प्रिया एसेलबोर्न

DW.COM